Thane News: वायु प्रदूषण पर सख्त ठाणे महानगरपालिका, डंपर वाहनों पर कार्रवाई

ठाणे महानगरपालिका के अंतर्गत आने वाले डंपरों के पास रडार ट्रैफिक का स्कैन कोड होना अनिवार्य किया गया है।

455

वायु प्रदूषण (Air Pollution) को कम करने के लिए उच्च न्यायालय (High Court) द्वारा दिए गए निर्देशानुसार ठाणे महानगरपालिका (Thane Municipal Corporation) क्षेत्र में सतर्कता टीमों का निरीक्षण जारी है। शुक्रवार (8 दिसंबर) को ठाणे महानगरपालिका की सतर्कता टीम द्वारा ईस्टर्न एक्सप्रेस-वे (Eastern Expressway) पर आनंदनगर नाका पर बजरी ईट ले जा रहे दो डंपर वाहनों (Dumper Vehicles) पर कार्रवाई की गई ।

इसके साथ ही ठाणे महानगरपालिका के अंतर्गत आने वाले डंपरों के पास रडार ट्रैफिक का स्कैन कोड होना अनिवार्य किया गया है। इसके अलावा, सड़क यातायात की अनुमति के लिए मुंबई महानगरपालिका से लाइसेंस की आवश्यकता होती है। साथ ही सहायक खनिज के परिवहन के साथ रॉयल्टी रसीद भी संलग्न होनी चाहिए। मुख्य पर्यावरण अधिकारी मनीषा प्रधान ने बताया कि इस क्षेत्र में इसकी जानकारी देने वाला बोर्ड लगाया जायेगा।

यह भी पढ़ें- BJP Protest: वीर सावरकर पर विवादित बयान को लेकर वसई-विरार में विरोध प्रदर्शन

लाखों का जुर्माना वसूला
एक महीने के अंदर अब तक ऐसे 138 वाहनों पर कार्रवाई कर 05 लाख 13 हजार रुपये जुर्माना वसूला गया है। तो कूड़ा जलाने की 53 घटनाएं सामने आई हैं और उनसे 02 लाख 09 हजार रुपये का जुर्माना वसूला गया है।

वायु प्रदूषण पर ऐसे दर्ज करें शिकायत
ठाणे महानगरपालिका ने वायु प्रदूषण को रोकने के लिए विभिन्न उपाय लागू किए हैं। इसके साथ ही ठाणे महानगरपालिका कमिश्नर अभिजीत बांगर के निर्देश पर वायु प्रदूषण की शिकायत दर्ज कराने के लिए ठाणे महानगरपालिका की हेल्पलाइन 8657887101 शुरू की गई है। अब तक 22 शिकायतें दर्ज हो चुकी हैं। ठाणे महानगरपालिका ने नागरिकों से अपील की है कि वे महानगरपालिका क्षेत्र में वायु प्रदूषण के संबंध में व्हाट्सएप नंबर 8657887101 पर एक तस्वीर के साथ शिकायत दर्ज करें।

हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज करें
ठाणे महानगरपालिका ने आज नगरिकों से आव्हान किया है कि खुले में कचरा जलाना, निर्माण के दौरान क्षेत्र में धूल/धूआं प्रदूषण, सड़कों पर निर्माण अपशिष्ट/मलबा (सी एंड डी अपशिष्ट) का बिना ढके परिवहन, सड़क कार्यों के कारण धूल प्रदूषण, निर्माण कचरे का डंपिंग, होटल से धूल/धूआं प्रदूषण- बेकरियां, रसायनों की तेज गंध, वाहनों की अवैध पार्किंग आदि वायु प्रदूषण के बारे में वे एक तस्वीर के साथ व्हाट्सएप के माध्यम से हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.