Chardham Yatra के लिए अब तक 2200661 पंजीकरण, इस धाम के लिए सबसे अधिक उत्साह

चारधाम यात्रा के प्रति लोगों का रुझान बढ़ रहा है। ऐसे में शासन-प्रशासन ने चारधाम यात्रा की तैयारियां लगभग पूरी कर ली है।

380

Chardham Yatra: उत्तराखंड की विश्व प्रसिद्ध चारधाम यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों में अपार उत्साह देखने को मिल रहा है। चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण अनिवार्य है। ऐसे में लगातार पंजीकरण संख्या बढ़ती जा रही है। चारधाम यात्रा के लिए अब तक कुल 2200661 पंजीकरण हो चुके हैं।

तैयारियां पूरी
चारधाम यात्रा के प्रति लोगों का रुझान बढ़ रहा है। ऐसे में शासन-प्रशासन ने चारधाम यात्रा की तैयारियां लगभग पूरी कर ली है। यात्रा प्रबंधन के लिए चारों धामों में टोकन सिस्टम लागू किया जाएगा। बिना रजिस्ट्रेशन के कोई भी श्रद्धालु चारधाम यात्रा नहीं कर पाएगा।

यमुनोत्री के कपाट 10 मई को खुलेंगे
श्रीकेदारनाथ धाम, गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट 10 मई को तो श्रीबदरीनाथ धाम के कपाट 12 मई को खुल रहे हैं।चारधाम यात्रा के लिए बुधवार शाम तक कुल 2200661 यात्री पंजीकरण करा चुके हैं। यमुनोत्री के लिए 344150, गंगोत्री के लिए 391812, श्रीकेदारनाथ धाम के लिए 760254, श्रीबद्रीनाथ धाम के लिए 658486 तो हेमकुंड साहिब के लिए 45959 यात्री पंजीकरण कराए हैं। इसमें श्रीकेदारनाथ धाम के लिए पंजीकरण सबसे अधिक है।

Uttarakhand forest fire case: 17 अधिकारियों-कर्मचारियों पर गिरी गाज, दो को कारण बताओ नोटिस जारी

ऐसे करें चारधाम यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन
चारधाम की यात्रा पर आने वाले श्रद्धालु उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद की वेबसाइट, ऐप, टोल फ्री नंबर और वाट्सएप के जरिए पंजीकरण करा सकते हैं। पिछली बार की तरह इस बार किसी भी धाम के लिए यात्रियों की संख्या सीमित करने का प्रावधान नहीं रखा गया है। श्रद्धालु चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण registrationandtouristcare.uk.gov.in वेबसाइट के माध्यम से करा सकते हैं। तीर्थयात्री व्हाट्सएप नंबर 91-8394833833 के माध्यम से भी अपना पंजीकरण करा सकते हैं। साथ ही टोल फ्री नंबर 0135 1364 से भी पंजीकरण करा सकते हैं।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.