Forbes ने जारी की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची, लिस्ट में सीतारमण सहित ये पांच भारवंशी शामिल

अमेरिकी बिजनेस मैगजीन हर साल दुनिया की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची जारी करती है।

454

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Union Finance Minister Nirmala Sitharaman)ने अमेरिकी बिजनेस मैगजीन फोर्ब्स(American business magazine Forbes) की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची(List of 100 most powerful women में जगह बनाई है। फोर्ब्स की सूची में चार भारतवंशी महिलाओं को शामिल किया गया है।
32वें नंबर पर हैं निर्माल सीतारमण
फोर्ब्स की शक्तिशाली महिलाओं की सूची में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 32वें स्थान पर हैं। यह लगातार 5वीं बार है, जब निर्मला सीतारमण ने इस सूची में जगह बनाई है। पिछले साल वो इस सूची में 36वें स्थान(36th place in the list) पर रही थीं, जबकि 2021 में उनको 37वां स्थान मिला था। इस बार की रैंकिंग में महिलाओं के वैश्विक परिवेश में योगदान, महिलाओं तक शिक्षा उनके अधिकारों के लिए काम और जेंडर संबंधी हिंसा को कम करने के आधार पर दी गई है।

I.N.D.I. आघाड़ी पर अनुराग ठाकुर ने साधा निशाना, हिन्दुत्व को लेकर सोच पर कही यह बात

पहले स्थान पर यूरोपीय आयोग की प्रमुख उर्सुला वॉन डेर लेयेन
दुनिया की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची में यूरोपीय आयोग की प्रमुख उर्सुला वॉन डेर लेयेन(European Commission chief Ursula von der Leyen) पहले स्थान पर हैं। दूसरे स्थान पर यूरोपीय सेंट्रल बैंक की बॉस क्रिस्टीन लेगार्ड और अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमल हैरिस तीसरे स्थान पर हैं। इस सूची में अन्य तीन भारतवंशी महिलाओं में एचसीएल कॉर्पोरेशन की मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) रोशनी नादर मल्होत्रा का 60वें स्थान, स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया की चेयरपर्सन सोमा मंडल 70वें स्थान और बायोकॉन की संस्थापक किरण मजूमदार-शॉ का 76वां स्थान है।

अमेरिकी मैगजीन हर साल दुनिया की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की जारी करती है सूची
उल्लेखनीय है कि अमेरिकी बिजनेस मैगजीन हर साल दुनिया की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची जारी करती है। फोर्ब्स चार प्रमुख मैट्रिक्स के आधार पर यह रैंकिंग निर्धारित करता है, जिसमें पैसा, मीडिया, प्रभाव और प्रभाव के क्षेत्र शामिल है। पॉलिटिकल नेताओं के लिए पत्रिका ने जीडीपी और जनसंख्या को मानक के तौर पर लिया है। वहीं, कॉर्पोरेट लीडर्स के लिए राजस्व, मूल्यांकन और एंप्लॉइज की संख्या को लिया है।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.