Ayodhya: नवनिर्मित मंदिर में जनवरी माह में विराजमान होंगे रामलला, अमित शाह ने लगाई मुहर

69

रोहतक में केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में गत 9 वर्ष के दौरान केंद्र सरकार ने पुनर्जागरण करते हुए सांस्कृतिक धरोहरों को सहजने का कार्य किया है। सरकार के अनेक महत्वपूर्ण फैसलों के परिणामस्वरूप देश आर्थिक महाशक्ति बनने की ओर अग्रसर है।

केन्द्रीय मंत्री अमित शाह 11 अक्टूबर को बाबा मस्तनाथ मठ में ब्रह्मलीन महंत चांदनाथ योगी की स्मृति में शंखढाल व मूर्ति स्थापना एवं प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सरकार ने असंभव लगने वाले कार्यों को भी पूरा करवाया है।

जनवरी में विराजमान होंगे रामलला
शाह ने कहा कि अयोध्या में श्रीराम की जन्मस्थली पर भव्य मंदिर का निर्माण जारी है। आगामी जनवरी माह में भगवान श्रीराम इस मंदिर में विराजमान होंगे। केंद्रीय मंत्री शाह ने ब्रह्मलीन महंत चांदनाथ योगी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उनकी मुलाकात योगीजी से जीवन के अंतिम पड़ाव में बाबा मस्तनाथ मठ में हुई थी। उन्होंने कहा कि महंत चांदनाथ से मिलने पर उन्हें आध्यात्मिक गहराई की अनुभूति हुई। शाह ने कहा कि श्रीबाबा मस्तनाथ मठ ने लोगों के कल्याण के लिए निरंतर कार्य किया है और नाथ सम्प्रदाय की परम्परा को आगे बढ़ाया। उन्होंने अजंता एलोरा की गुफाओं को लेकर कहा कि इन गुफाओं में दीवारों पर स्थित सभी कृतियों के कान में कुंडल है और नाथ सम्प्रदाय भी इसी परम्परा का अनुसरण कर रहा है। कोरोना काल के दौरान भी श्रीबाबा मस्तनाथ मठ ने लोगों की सेवा की थी। 8वीं शताब्दी से शुरू हुई मठ की सेवा की परम्परा को महंत बालकनाथ आगे बढ़ा रहे है।

संत-महात्माओं को दिया प्रतिनिधित्व
केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने संत महात्माओं को देश की नीति निर्धारित करने में हिस्सेदारी देते हुए संसद व विधानसभाओं में प्रतिनिधित्व दिया है। उन्होंने कहा कि इस बार एशियन खेलों में देश के खिलाडिय़ों ने अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर एक सौ से अधिक पदक प्राप्त किये हैं। सरकार खेल प्रतिभाओं को तराशने के लिए अनेक कदम उठाए हैं। उन्होंने हरियाणा के खिलाडिय़ों की उपलब्धियों की भी प्रशंसा की।

महंत चांदनाथ योगीजी ने कर्मयोग का दिया है संदेश: भूपेंद्र यादव
केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्री भूपेंद्र यादव ने कहा कि उनका महंत चांदनाथ योगीजी से पुराना रिश्ता रहा है। महंत योगी ने कर्मयोग की शिक्षा दी है, जिसके अनुसार कर्म करने से ही जीवन को सुधारा जा सकता है। नाथ सम्प्रदाय के संत महात्माओं ने सनातन परम्परा को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि श्रीबाबा मस्तनाथ मठ शिक्षा के क्षेत्र में भी विशेष योगदान दे रहा है। उन्होंने पतंजलि के विभिन्न सूत्रों का भी वर्णन किया।

धारा 370 को खत्म करने में केंद्रीय गृहमंत्री की महत्वपूर्ण भूमिका: महंत बालकनाथ
अलवर से लोकसभा सांसद महंत बालकनाथ ने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर से धारा 370 को समाप्त करने का कार्य प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा गृहमंत्री अमित शाह के नेतृत्व में शांतिपूर्वक पूरा किया गया। उन्होंने कहा कि अयोध्या में श्रीराम के भव्य मंदिर का निर्माण जारी है। महंत बालकनाथ ने केंद्रीय गृहमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने इस मठ को छोटे बच्चे की तरह सहारा देकर आगे बढ़ाया है। उन्होंने श्रीबाबा मस्तनाथ मठ की 8वीं शताब्दी में की गई स्थापना तथा विभिन्न महंतों के उल्लेखनीय कार्यों का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि सभी साधु-संत देश की सनातन परम्परा को आगे बढ़ाने में अपना मूल्यवान योगदान दे रहे हैं।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.