सात दिवसीय पंचगव्य यात्रा का समापन, ये था उद्देश्य

पंचगव्य शुद्धिकरण अभियान यात्रा का उद्देश्य सिर्फ यही है कि उत्तराखंड के सभी सिर्फ धामों में गैर हिन्दुओं का प्रवेश वर्जित किया जाए।

ऋषिकेश के त्रिवेणी घाट पर भैरव सेना और देवभूमि मां गंगा स्वयंसेवी चैरिटेबल ट्रस्ट ने उत्तराखंड के सभी धामों में गैर हिन्दुओं के प्रवेश को वर्जित किये जाने के लिए सात दिवसीय पंचगव्य यात्रा का त्रिवेणी घाट पर पूर्णाहुति के साथ 1 मई को समापन हुआ।

इस दौरान भैरव सेना के अध्यक्ष संदीप खत्री ने बताया कि 25 अप्रैल को देहरादून से रवाना हुई थी। पंचगव्य शुद्धिकरण अभियान यात्रा सर्वप्रथम यमुनोत्री धाम, गंगोत्री धाम ,हनुमान चट्टी, जानकी चट्टी, उत्तर काशी, विश्वनाथ चौरंगी खाल, देवप्रयाग, श्रीयंत्र टापू श्रीनगर, धारी देवी रुद्रनाथ मंदिर ,रुद्रप्रयाग कोटेश्वर ,महादेव कालीमठ ,गौरीकुंड, त्रियुगीनारायण ,तुंगनाथ मक्कूमाथ ,सोनप्रयाग गुप्तकाशी उखीमठ, जोशीमठ मां अनुसूया देवी ,मंडल गोपेश्वर पांडुकेश्वर ,कर्णप्रयाग ,नंदप्रयाग सहित दर्जनों सिद्धपीठ शक्तिपीठों में पंचगव्य अभियान के अंतर्गत गए जहां पर सभी सनातनियों ने पंचगव्य शुद्धिकरण अभियान यात्रा का जोरदार समर्थन और स्वागत किया। तत्पश्चात यात्रा का समापन पूर्णाहुति के साथ त्रिवेणी घाट ऋषिकेश पर किया।

ये भी पढ़ें – नई दिल्लीः 67 पुलिस स्टेशनों में 10 हजार से अधिक लोगों को दी जाएगी वोकेशनल ट्रेनिंग, ये है उद्देश्य

अध्यक्ष संदीप ने बताया कि पंचगव्य शुद्धिकरण अभियान यात्रा का उद्देश्य सिर्फ यही है कि उत्तराखंड के सभी सिर्फ धामों में गैर हिन्दुओं का प्रवेश वर्जित किया जाए और जितने भी श्रद्धालु फिर धामों में आए उनको पंचगव्य का आगमन अनिवार्य किया जाए।

यात्रा में सम्मिलित प्रदेश महासचिव उमाकांत भट्ट ने कहा कि पंचगव्य शुद्धिकरण अभियान यात्रा संगठन द्वारा हर वर्ष तीर्थ यात्रा के कपाट खुलने से 2 सप्ताह पूर्व पंचगव्य यात्रा नियमित रूप से निकाली जाएगी ताकि संस्कृति में मां गंगा और गौमाता की महत्ता का पता चल सके। प्रदेश सचिव संजय पंवार ने कहा कि यात्रा के लिए अगले वर्ष से और अच्छी तैयारियां संगठन द्वारा की जाएंगे। पंचगव्य शुद्धिकरण अभियान यात्रा के त्रिवेणी घाट पर पहुंचने पर देवभूमि मां गंगा स्वयंसेवी से टेबल ट्रस्ट गंगा सभा ऋषिकेश तथा विश्व हिन्दू परिषद द्वारा भव्य स्वागत किया गया। गंगा सभा के कार्यकारी अध्यक्ष राहुल शर्मा ने भैरव सेना की पंचगव्य शुद्धीकरण यात्रा के पूर्णाहुति समापन के लिए हवन सामग्री तथा अन्य व्यवस्थाओं की व्यवस्था की

पूर्णाहुति कार्यक्रम में चैरिटेबल ट्रस्ट की अध्यक्ष रीना उनियाल योगेश उनियाल, अमिता उनियाल, ज्योति उनियाल, तनु नेगी, आशा नेगी, उषा शर्मा, विजय बिजलवान, आशू नौटियाल, सौरभ भंडारी, विक्रम भंडारी, करण शर्मा, सुधांशु जखमोला, अनु राजपूत मयंक शर्मा सहित सैकड़ों कार्यकर्ता एवं श्रद्धालु उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here