भारत का व्यवहार वसुधैव कुटुंबकम का-RSS, यहूदी लोगों को लेकर दी ये राय

भारत ने विश्व मंच पर वसुधैव कुटुंबकम का ही संदेश दिया है। भारत सिर्फ भारत के लिए जीना नहीं जानता, भारत एक नियति है, जो वैश्विक भूमिका है।

79

 राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले (Dattatreya Hosabale) ने वडोदरा के मांजलपुर में कहा कि भारत में यहूदी (Jewish) वर्षों से रहते हैं, उनके साथ भारत के लोगों का भाईचारा का व्यवहार है। भारत ने सिर्फ बातों से नहीं, सही मायने में वसुधैव कुटुंबकम (Vasudhaiva Kutumbakam) को व्यवहार से साबित किया है।

भारत सिर्फ भारत के लिए जीना नहीं जानता
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले की मौजूदगी में मांजलपुर के स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में महानगर वस्ती संगम का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें आरएसएस के सरकार्यवाह ने जी-20 सम्मेलन की चर्चा कर कहा कि भारत ने विश्व मंच पर वसुधैव कुटुंबकम का ही संदेश दिया है। भारत सिर्फ भारत के लिए जीना नहीं जानता, भारत एक नियति है, जो वैश्विक भूमिका है। हाल दिल्ली में जी-20 का सम्मेलन आयोजित हुआ है, जिसमें विश्व के देशों के प्रतिनिधि शामिल हुए। इसमें भी भारत ने वसुधैव कुटुंबकम का संदेश दिया है। होसबले ने सवालिया लहजे में कहा कि क्या संदेश देना ही भारत का काम है? नहीं, भारत ने विश्व मंगल के लिए, मानवता की सेवा करने का प्रयत्न भी किया है।

यह भी पढ़ें – I.N.D.I.A. गठबंधन सोशल मीडिया मंचों पर लगा रहा पक्षपात का आरोप, उधर एक्स हमास समर्थकों को सिखा रहा सबक, जानें पूरा मामला

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.