Gurugram: गौ तस्करों का फिर आतंक, 4 किमी तक होती रही भिड़ंत

गौ तस्कर गाड़ी में गोवंश को भरकर ले जा रहे थे। इसकी सूचना मिलते ही गौ रक्षक उन्हें बचाने के लिए पहुंचे। गौ तस्करों की गाड़ी का गौ रक्षकों ने पीछा किया। जब वे नजदीक पहुंचे तो तस्करों ने उन पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिये।

177

गुरुग्राम (Gurugram) में एक बार फिर से गौ तस्करों (cow smugglers) का आतंक दिखाई दिया। तस्करी के लिए ले जाये जा रहे गोवंश को बचाने के लिए जब गौ रक्षक बजरंग दल (Bajrang Dal) के सदस्य तस्करों के पीछे लगे तो उन्होंने गौ रक्षकों ((cow protector)) पर हमला कर दिया। जब कुछ नहीं हो सका तो वे गाड़ी से गोवंश को सडक़ पर फेंकने लगे। इस दौरान कई गौवंश घायल हो गये। तस्कर भी अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गये। पुलिस इस मामले में आरोपियों की धरपकड़ के लिए जुटी रही।

गोवंश को सड़क पर गिराने लगे तस्कर
जानकारी के अनुसार जिला के गांव गढ़ी मुरली व अभयपुर के बीच गौ तस्कर गाड़ी में गोवंश को भरकर ले जा रहे थे। इसकी सूचना मिलते ही गौ रक्षक उन्हें बचाने के लिए पहुंचे। गौ तस्करों की गाड़ी का गौ रक्षकों ने पीछा किया। जब वे नजदीक पहुंचे तो तस्करों ने उन पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिये। करीब 4 किलोमीटर तक यह हिंसा चलती रही। गौ तस्करों ने रास्ता रोकने के लिए गोवंश को भी गाड़ी से बीच सडक़ पर गिराना शुरू कर दिया। इस दौरान कई गोवंश घायल हो गये।

गाड़ी छोड़ भाग गये गौ तस्कर
जब गौ तस्करों को अंदेशा हुआ कि अब वे फंस गए हैं तो उन्होंने अपनी गाड़ी को छोड़ दिया और खेतों के रास्ते अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गये। गौ तस्करी की सूचना गौ रक्षकों ने पुलिस कंट्रोल में भी दी। पुलिस मौके पर पहुंची जरूर, पर त्वरित कोई कार्रवाई नहीं की। करीब दो घंटे तक भोंडसी था व सोहना सदर थाना पुलिस में सीमा विवाद पर बात होती रही। इस विवाद में दो घंटे गौ रक्षक भी पुलिस कार्रवाई का इंतजार करते रहे। करीब दो घंटे बाद सोहना सदर थाना पुलिस ने इसमें कार्रवाई शुरू की।

यह भी पढ़ें – फडणवीस के आश्वासन के बाद OBC federation का अनशन खत्म

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.