बिहार के इस जिले में कोहराम मचा रहा डेंगू का कहर, डेंगू का सबसे बड़ा मामला

बिहार के इतिहास में कभी इतना डेंगू का मामला सामने नहीं आया था। इन 32 हत्याओं के लिए ज़िम्मेदार कौन है। बिहार सरकार का ध्यान सिर्फ राजनीति पर है, प्रशासनिक कार्यों में बिल्कुल ही मतलब नहीं रह गया है।

386

बेगूसराय (Begusarai) में शहर से गांव तक डेंगू (Dengue) कोहराम मचा रहा है। यहां दो हजार से अधिक लोग डेंगू से संक्रमित हो चुके हैं। जिसमें 12 से अधिक लोगों की मौत भी हो चुकी है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग और शासन-प्रशासन आंकड़ों का खेल कर रहा है।

बिहार में डेंगू से गई 32 लोगों को जान
ऐसे में भारतीय जनता पार्टी (B J P) के प्रदेश मीडिया पैनलिस्ट नीरज कुमार ने महामारी का रुप ले चुके डेंगू को लेकर बिहार सरकार (Bihar government) एवं महागठबंधन पर जोरदार हमला किया है। उन्होंने आज कहा है कि महाठगबंधन वाले जिंदा इंसान का खून चूस रहे हैं। डेंगू की स्थिति भयावह हो गई है। नीरज कुमार ने कहा कि 2021 में बिहार में डेंगू के मात्र 633 मामले सामने आए थे, जिसमें से मात्र दो लोगों की मृत्यु हुई थी। लेकिन अगले साल जब नीतीश कुमार ने एनडीए से अलग होकर लालू यादव के साथ सरकार बना लिए तो साल 2022 में डेंगू के 13972 मामले सामने आए। उसके लापरवाही के कारण बिहार में 32 लोगों को जान गंवानी पड़ी थी।

बिहार में डेंगू का सबसे बड़ा मामला
बिहार के इतिहास में कभी इतना डेंगू का मामला सामने नहीं आया था। इन 32 हत्याओं के लिए ज़िम्मेदार कौन है। बिहार सरकार का ध्यान सिर्फ राजनीति पर है, प्रशासनिक कार्यों में बिल्कुल ही मतलब नहीं रह गया है। इस साल तो स्थिति बहुत ही भयावह हो गई है। अक्टूबर तक 15 हजार से अधिक डेंगू के मामले आ चुके हैं। डेंगू के कारण अब तक 59 लोगों की जानें जा चुकी है। मच्छर तो सिर्फ खून चूसता है, लेकिन यह महाठगबंधन वाले क्या चूसते हैं। यह तो जिंदा इंसान को चूस जाते हैं। आखिर कहां है शासन-प्रशासन और व्यवस्था। (हि.स.)

यह भी पढ़ें – नेपाल के भूकंप प्रभावित क्षेत्रों से अब तक निकाले जा रहे शव, 3,000 घर पूरी तरह नष्ट

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.