Chardham Yatra: 15-16 मई को नहीं होंगे ऑफलाइन पंजीकरण, यह है कारण

13 मई को सुगम और सुरक्षित चारधाम यात्रा के संचालन के लिए आला-अधिकारियों की एक बैठक आयोजित हुई।

321

Chardham Yatra: सुगम और सुरक्षित चारधाम यात्रा के लिए चमोली, रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी में एक-एक यात्रा मजिस्ट्रेट तैनात होंगे। यात्रियों की सुरक्षा और सुविधा के मद्देनजर 15 व 16 को ऑफलाइन पंजीकरण नहीं होंगे। मुख्यमंत्री के निर्देशों के क्रम में सोमवार को उच्चाधिकारियों की बैठक में महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।

आला-अधिकारियों की बैठक आयोजित
13 मई को सुगम और सुरक्षित चारधाम यात्रा के संचालन के लिए आला-अधिकारियों की एक बैठक आयोजित हुई। आयुक्त गढ़वाल विनय शंकर पांडेय ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देशों के क्रम में आज प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री आरके सुधांशु, सचिव मुख्यमंत्री विनय शंकर पांडेय, डीजीपी अभिनव कुमार व उनकी मौजूदगी में एक बैठक में निर्णय लिया गया कि जनपद चमोली, रुद्रप्रयाग एवं उत्तरकाशी में चारधाम यात्रा के दृष्टिगत यहां पर एक-एक मजिस्ट्रेट की तैनाती की जाएगी। इनकी तैनाती के आदेश भी गढ़वाल आयुक्त के स्तर से जारी कर दिए गए हैं। इनको जिलाधिकारी अपने अनुसार कार्य का आवंटन करेंगे।

Lok Sabha Election 2024: हैदराबाद से भाजपा उम्मीदवार माधवी लता ने मतदान केंद्र के बाहर किया विरोध प्रदर्शन, लगाए ये गंभीर आरोप

सुरक्षा के मद्देनजर लिया गया फैसला
सचिव पर्यटन ने बताया कि चारधाम पर आने वाले यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर यह भी निर्णय लिया गया है कि 15 और  16 को यात्रा के लिए पंजीकरण नहीं किए जायेंगे। पुलिस महानिदेशक ने बताया कि बैठक में प्रत्येक जनपद में सौ-सौ अतिरिक होम गार्ड भी दिए जाएंगे एवं उत्तरकाशी में एक अतिरिक्त पुलिस क्षेत्राधिकारी की तैनाती भी की जाएगी।

मुख्य विकास अधिकारी हरिद्वार प्रतीक जैन को बदरीनाथ धाम जनपद चमोली, मुख्य विकास अधिकारी टिहरी गढवाल अभिषेक त्रिपाठी को उत्तरकाशी और हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण हरिद्वार अंशुल सिंह को केदारनाथ धाम रुद्रप्रयाग में यात्रा मजिस्ट्रेट के तौर पर तैनाती की गई है।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.