Uttarakhand: चारधाम यात्रा और हेमकुंड साहिब के लिए 24 घंटे में 78857 पंजीकरण, जानिये अब तक कितने श्रद्धालुओं ने कराया रजिस्ट्रेशन

चारधाम यात्रा के लिए ऑनलाइन पंजीकरण अनिवार्य है। ऑनलाइन पंजीकरण 15 अप्रैल सुबह सात बजे से प्रारंभ किए गए हैं।

105

Uttarakhand में चारधाम यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में जबरदस्त उत्साह देखा जा रहा है। 10 मई से शुरू होने वाली चारधाम यात्रा के लिए अब तक 1145014 तीर्थयात्रियों ने पंजीकरण कराया है। शनिवार को 24 घंटे में चारधाम और हेमकुंड साहिब के लिए 78857 तीर्थयात्रियों ने पंजीकरण कराए हैं। 19 अप्रैल तक 1066157 पंजीकरण हुए थे।

ऑनलाइन पंजीकरण अनिवार्य
दरअसल,चारधाम यात्रा के लिए ऑनलाइन पंजीकरण अनिवार्य है। ऐसे में चारधाम यात्रा और हेमकुंड साहिब के लिए 20 अप्रैल शाम छह बजे तक कुल 1145014 पंजीकरण हुए हैं। ऑनलाइन पंजीकरण 15 अप्रैल सुबह सात बजे से प्रारंभ किए गए थे। चारधाम यात्रा पंजीकरण में यमुनोत्री के लिए 205561, गंगोत्री के लिए 214302, केदारनाथ के लिए 383159, बद्रीनाथ के लिए 326677 और हेमकुंड साहिब के लिए 15315 पंजीकरण हुए हैं। अब तक हुए पंजीकरण में टूरिज्म केयर उत्तराखंड मोबाइल ऐप से 150589 एवं registrationandtouristcare.uk.gov.in वेबपोर्टल से 894295 तो व्हाट्सएप से 100130 पंजीकरण हुए हैं। पंजीकरण के लिए ये विकल्प तीर्थयात्रियों के लिए काफी आसान है।

Lok Sabha Elections: देश को मजबूत प्रधानमंत्री चाहिए न कि…! अनुराग ठाकुर ने राहुल गांधी पर किया कटाक्ष

10 मई से शुरू हो रही है यात्रा
उत्तराखंड में 10 मई से चारधाम यात्रा शुरू हो रही है। 10 मई को बाबा केदारनाथ धाम के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए जाएंगे। अक्षय तृतीया पर 10 मई को ही मां गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के भी कपाट खुलेंगे। जबकि भगवान बद्रीनाथ धाम के कपाट 12 मई को खुलेंगे। यात्रा के लिए सरकारी स्तर पर सभी तैयारियां को अंतिम रूप दिया जा रहा है। वहीं हेमकुंड साहिब की यात्रा 25 मई को शुरू होगी।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.