‘केप टू रियो रेस’ में हिस्सा लेगी भारतीय नौसेना की आईएनएसवी तारिणी, ‘ये’ पांच अधिकारी करेंगे नेतृत्व

भारतीय नौसेना नियमित रूप से सागर परिक्रमा, आईओएनएस 10वीं वर्षगांठ और बंगाल की खाड़ी के नौकायन अभियानों में भाग लेती रही है।

दक्षिण अफ्रीका के केप टाउन से ब्राजील के रियो डी जनेरियो तक समुद्री नौकायन दौड़ 2 जनवरी से होगी। इसका समापन रियो डी जनेरियो, ब्राजील में होगा। इस 50वें संस्करण में भाग लेने के लिए भारत ने आईएनएसवी तारिणी को भेजा है। यह दौड़ सबसे प्रतिष्ठित ट्रांस-अटलांटिक महासागर दौड़ में से एक है। इस अभियान में भारतीय नौसेना दल का नेतृत्व पांच अधिकारी करेंगे, जिनमें दो महिला अधिकारी भी हैं।

नौसेना प्रवक्ता कमांडर विवेक मधवाल ने बताया कि आईएनएसवी तारिणी ‘केप टू रियो रेस’ के 50वें संस्करण में भाग लेने के लिए रवाना हो गई है। इस समुद्री नौकायन दौड़ को केप टाउन से 02 जनवरी, 2023 को झंडी दिखाई जाएगी। इसका समापन रियो डी जनेरियो, ब्राजील में होगा। इस अभियान के दौरान आने-जाने में आईएनएसवी तारिणी लगभग 17000 नॉटिकल मील (लगभग 30 हजार किमी.) की दूरी तय करेगी। इस ट्रांस-समुद्री यात्रा में 5-6 महीने की अवधि में चालक दल को भारतीय, अटलांटिक और दक्षिणी महासागरों के चरम मौसम और खराब समुद्री परिस्थितियों का सामना करना है।

ये है अभियान का उद्देश्य
नौसेना प्रवक्ता ने बताया कि अभियान का उद्देश्य जहाज पर चालक दल को नेविगेशन, संचार, तकनीकी, योजना आदि सहित आवश्यक सीमैनशिप कौशल में प्रशिक्षित करना है। यह अभियान दुनिया के एकल परिक्रमा नौकायन अभियान के लिए जहाज पर सवार दो महिला अधिकारियों के प्रशिक्षण के लिहाज से एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। समुद्र में नौकायन एक अत्यंत मुश्किल साहसिक खेल है। यह महासागर नौकायन अभियान भारतीय नौसेना की दुनिया भर में अपनी उपस्थिति दर्शाने के साथ-साथ रोमांच की भावना, जोखिम लेने की क्षमता को विकसित करने में मदद करेगा।

भारतीय नौसेना नौकायन में लेती रही है भाग
भारतीय नौसेना नियमित रूप से सागर परिक्रमा, आईओएनएस 10वीं वर्षगांठ और बंगाल की खाड़ी के नौकायन अभियानों में भाग लेती रही है। आईएनएसवी तारिणी को 2017 में ‘नाविका सागर परिक्रमा’ नामक ऐतिहासिक अभियान में दुनिया भर में परिक्रमा करने के लिए जाना जाता है। इस अभियान के दल में सिर्फ महिला अधिकारी शामिल थीं। मौजूदा समय में जहाज के कैप्टन अतुल सिन्हा हैं और उनके साथ लेफ्टिनेंट कमांडर आशुतोष शर्मा, लेफ्टिनेंट कमांडर दिलना के., लेफ्टिनेंट कमांडर रूपा ए और सब लेफ्टिनेंट अविरल केशव सदस्य के रूप में हैं।

यह भी पढ़ें – ताज महल को नोटिस, जानें कितना कर है बकाया

क्रू टर्नअराउंड की योजना
कमांडर मधवाल ने बताया कि इस अभियान के दौरान भारत में वापसी के लिए रियो डी जनेरियो में एक क्रू टर्नअराउंड की योजना बनाई गई है। चालक दल में बदलाव के बाद कमांडर निखिल पी हेगड़े कप्तान के रूप में कार्यभार संभालेंगे जबकि कमांडर एमए जुल्फिकार, कमांडर दिव्या पुरोहित और कमांडर अभिषेक डोके चालक दल के सदस्य होंगे। लेफ्टिनेंट कमांडर दिलना के और लेफ्टिनेंट कमांडर रूपा ए अभियान के दोनों चरणों के लिए चालक दल का हिस्सा होंगी, क्योंकि उन्हें दुनिया की एकल परिक्रमा के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है। इसी प्रशिक्षण पाठ्यक्रम के तहत इन महिला अधिकारियों ने हाल ही में मॉरीशस के अभियान में भी भाग लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here