Lok Sabha Election 2024: उत्तर प्रदेश की आठ सीटों पर वोटिंग शुरू, मतदान केंद्रों पर लगी कतारें

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव हेतु व्यापक इंतजाम एवं सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कराई गई है। आठ लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों से कुल 80 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं।

62

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में प्रथम चरण (First Phase) की आठ लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों (Lok Sabha Constituencies) में मतदान (Voting) प्रक्रिया शुक्रवार (19 अप्रैल) को शुरू हो गई है। सहारनपुर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, नगीना आजमगढ़, मुरादाबाद, रामपुर तथा पीलीभीत में मतदान चल रहा है। यह मतदान शाम को छह बजे तक चलेगा। कई जगहों पर मतदान के लिए लंबी लाइनें लग गयी हैं, तो वहीं कई जगहों पर सुबह के चलते बूथ खाली भी देखने को मिले। कैराना से सबसे ज्यादा 14 उम्मीदवारों (Candidates) के भाग्य का फैसला 17,22,432 मतदाता (Voters) करेंगे।

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव हेतु व्यापक इंतजाम एवं सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कराई गई है। आठ लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों से कुल 80 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं। कुल मतदाताओं की संख्या 1,44,01,543 है, जिसमें पुरुष 76,54,658, महिला 67,46,136 तथा थर्ड जेन्डर 749 हैं। निर्वाचन क्षेत्र में 14,845 मतदेय स्थल हैं।

यह भी पढ़ें- China ने फिर किया नेपाल के आंतरिक मामले में हस्तक्षेप, वामपंथी सरकार को लेकर कही ये बात

उम्मीदवारों में सात महिला प्रत्याशी
प्रथम चरण में मतदाताओं की संख्या की दृष्टि से सबसे अधिक मतदाता मुरादाबाद तथा सबसे कम मतदाता नगीना आजमगढ़ लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में हैं। अस्सी उम्मीदवारों में सात महिला प्रत्याशी हैं। सबसे कम प्रत्याशी 05-नगीना आजमगढ़ एवं रामपुर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र में हैं, जहां 06-06 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। प्रथम चरण के चुनाव में कुल 14,845 मतदेय स्थल (पोलिंग बूथ) तथा 7,693 मतदान केन्द्र हैं। 3571 मतदेय स्थल क्रिटिकल हैं।

कैराना से 14 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं
सहारनपुर से 10 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं। कुल मतदाताओं की संख्या 18,55,310 है, जिसमें पुरुष 9,80,096, महिला 8,75,131 तथा थर्ड जेन्डर 83 हैं। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1926 मतदेय स्थल हैं। वहीं, कैराना से 14 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं। यहां कुल मतदाताओं की संख्या 17,22,432 है। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1750 मतदेय स्थल हैं। मुजफ्फरनगर से 11 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं। यहां कुल मतदाताओं की संख्या 18,17,472 है, जिसमें पुरुष 9,68,869, महिला 8,48,460 तथा थर्ड जेन्डर 143 हैं। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1698 मतदेय स्थल हैं।

कुल मतदाताओं की संख्या 16,44,909
बिजनौर से 11 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं। कुल मतदाताओं की संख्या 17,38,307 है, जिसमें पुरुष 9,23,530, महिला 8,14,693 तथा थर्ड जेन्डर 84 हैं। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1837 मतदेय स्थल हैं। नगीना (अ0जा0) से छह प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं। कुल मतदाताओं की संख्या 16,44,909 है, जिसमें पुरुष 8,72,364, महिला 7,72,485 तथा थर्ड जेन्डर 60 हैं। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1788 मतदेय स्थल हैं।

रामपुर से छह प्रत्याशी चुनाव मैदान
मुरादाबाद से 12 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं। कुल मतदाताओं की संख्या 20,59,578 है, जिसमें पुरुष 10,93,392, महिला 9,66,103 तथा थर्ड जेन्डर 83 हैं। इस निर्वाचन क्षेत्र में 2133 मतदेय स्थल हैं। वहीं रामपुर से छह प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं। कुल मतदाताओं की संख्या 17,31,836 है, जिसमें पुरुष 9,15,998, महिला 8,15,678 तथा थर्ड जेन्डर 160 हैं। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1789 मतदेय स्थल हैं। लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 26-पीलीभीत से 10 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं। कुल मतदाताओं की संख्या 18,31,699 है, जिसमें पुरुष 9,78,577, महिला 8,53,082 तथा थर्ड जेन्डर 40 हैं। इस निर्वाचन क्षेत्र में 1924 मतदेय स्थल हैं।

कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान
मतदान पर सतर्क दृष्टि रखने के लिए आयोग द्वारा आठ सामान्य प्रेक्षक, पांच पुलिस प्रेक्षक तथा 10 व्यय प्रेक्षक भी तैनात किये गये हैं। इसके अतिरिक्त 1272 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 150 जोनल मजिस्ट्रेट, 103 स्टैटिक मजिस्ट्रेट तथा 1861 माइक्रो ऑब्जर्वर भी तैनात किये गये हैं। चुनाव प्रक्रिया को सम्पन्न कराने के लिए 4083 भारी वाहन, 5058 हल्के वाहन तथा 65380 मतदान कार्मिक लगाये गये हैं। चुनाव में मतदान के लिए 18662 ईवीएम की कन्ट्रोल यूनिट, 18734 बैलट यूनिट तथा 19603 वी.वी.पैट तैयार किये गये हैं।

स्ट्रांग रूम की सुरक्षा की जिम्मेदारी अर्धसैनिक बलों को दी गयी
चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए पर्याप्त मात्रा में अर्द्ध सैनिक बलों की तैनाती की गई है। स्ट्रांग रूम की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी अर्द्ध सैनिक बलों को दी गयी है। प्रथम चरण के निर्वाचन के दौरान अर्द्ध सैनिक बलों-पुलिस बलों के व्यवस्थापन के दृष्टिगत आकस्मिकता की स्थिति में मेडिकल सहायतार्थ एयर एम्बुलेंस एवं हेलीकाप्टर की व्यवस्था भी की गयी है। इसके अतिरिक्त 1510 मतदेय स्थलों पर वीडियोग्राफी की भी व्यवस्था की गई है।

प्रथम चरण में कुल 111 आदर्श मतदेय स्थल, 45 समस्त महिला प्रबंधित मतदेय स्थल, 36 समस्त युवा कर्मी मतदेय स्थल तथा 32 समस्त दिव्यांग प्रबंधित मतदेय स्थल बनाये गये हैं। मतदेय स्थलों पर जो मतदाता सायं 6.00 बजे उपस्थित रहेंगे, उन मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग किया जा सकेगा।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.