तो बाबरी ढांचे जैसा हाल कर देंगे टिपू सुल्तान की मूर्ति का – प्रमोद मुथालिक

कर्नाटक में लंबे काल से टीपू सुल्तान की जयंती का विरोध होता रहा है। हिंदू संगठन टीपू को आक्रांता मानते थे, जबकि मुस्लिम समुदाय उनका गौरव गान करता है।

श्री राम सेना के मुखिया प्रमोद मुथालिक ने चेतावनी दी है कि, यदि कर्नाटक के कांग्रेस विधायक टीपू सुल्तान की मूर्ति लगाते हैं तो वे उसका वही हश्र करेंगे जो बाबरी ढांचे का हुआ था। प्रमोद मुथालिक का यह बयान कांग्रेस के विधायक तन्वीर सेठ की घोषणा के बाद आया था।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कांग्रेस विधायक तन्वीर सेठ ने कहा था कि, इस्लाम में मूर्ति लगाने पर प्रतिबंध है। फिर भी हम टीपू सुल्तान की मूर्ति लगाएंगे। जिससे आनेवाली पीढ़ियां इतिहास जान पाएं। इसी के विरोध में प्रमोद मुथालिक ने आवाज मुखर की है। उन्होंने प्रश्न किया है कि, आप कैसे टीपू सुल्तान की मूर्ति लगा सकते हैं? यह इस्लाम के लिहाज से विराधाभासी है। इसलिए तन्वीर सेठ के खिलाफ फतवा निकाला जाना चाहिये।

ये भी पढ़ें – हिंदू छात्र को पीटा, पैसे छीने और लगवाए इस्लामी नारे! हैदराबाद के कैम्पस में दादागिरी?

श्रीराम सेना के मुखिया ने कहा कि, भारत और पाकिस्तान धार्मिक आधार पर दो देश बने। मुसलमानों के लिए पाकिस्तान बना और भारत हिंदुओं के लिए। हमने संविधान में जबरदस्ती डाले गए सेकुलर शब्द का विरोध किया। ईदगाह मैदान में टीपू सुल्तान की जयंती मनाई गई। इसलिए हमने गौमुत्र से उसका शुद्धिकरण किया। भाजपा ने टीपू सुल्तान जयंती मनाने की अनुमति राजनीतिक उद्देश्य के कारण दिया था। टीपू कट्टरवादी और गद्दार था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here