Rajasthan: कांग्रेस को फिर लगा जोर का झटका, वरिष्ठ पार्टी नेता ने 300 समर्थकों के साथ थामा भाजपा का कमल

122

Rajasthan में लोकसभा चुनाव से पहले ही कांग्रेस को झटके पर झटके लगते दिख रहे है। जहां 10 अप्रैल को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और प्रदेश कांग्रेस के कोषाध्यक्ष रहे सीताराम अग्रवाल(Congress leader Sitaram Agarwal)) ने राजधानी जयपुर में भारतीय जनता पार्टी प्रदेश(Bharatiya Janata Party State) कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में डिप्टी सीएम दीया कुमारी(Deputy CM Diya Kumari) और पार्टी के वरिष्ठ नेता औंकार सिंह लखावत(Senior party leader Aunkar Singh Lakhawat) समेत अन्य नेताओं की मौजदूगी में हाथ का साथ छोड़कर भाजपा का कमल(BJP’s lotus) थाम लिया है।

जानकारी के अनुसार सीताराम अग्रवाल के साथ कई पार्षद, पार्षद प्रत्याशी,व्यापार प्रकोष्ठ के पदाधिकारी सहित तीन सौ छह लोग भाजपा की सदस्या ग्रहण की है।

सुबह का भूला शाम को घर लौटा
अग्रवाल सहित अन्य कांग्रेस कार्यकर्ताओं के कांग्रेस छोड़ देने से पार्टी को खासा नुकसान हुआ है। बीजेपी में शामिल होने के बाद अग्रवाल ने कहा कि सुबह का भूला शाम को घर लौटा हूं और बीच में दस साल तक रास्ता भटक गया था, जो यू टर्न लेकर आया हूं। विद्याधर नगर में कांग्रेस अब जीरो हो गई है और वह अब तन-मन से बीजेपी की सेवा करेंगे।

अंतिम सांस तक भाजपा में रहने का भरोसा
पार्टी में शामिल होने के बाद अग्रवाल ने कहा कि दीया कुमारी के लिए अंतिम सांस तक खड़ा रहूंगा। वह दिया कुमारी के नेतृत्व में आगे बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि उन्होंने गरीब घर में जन्म लिया और 200 रुपये से नौकरी शुरू की, लेकिन आज सरिया कंपनी का मालिक है।

Indore Junction : 5 इंदौर जंक्शन के पास अवश्य घूमने योग्य स्थान

विद्याधर नगर कांग्रेस मुक्त हो गयाः दीया कुमारी
इस मौके पर डिप्टी सीएम दीया कुमारी ने कहा कि आज विद्याधर नगर कांग्रेस मुक्त हो गया है। कोरोना से छुटकारा मिल गया है और कांग्रेस रूपी बीमारी से भी मुक्ति पानी है। सीताराम अग्रवाल सही समय पर बीजेपी में शामिल हुए हैं। अग्रवाल ने तन मन धन से कांग्रेस की सेवा की। लेकिन कांग्रेस में इन्हें कुछ हासिल नहीं हुआ। उन्होंने दावा किया कि इस बार एनडीए 400 पार करेगा। राजस्थान में बीजेपी पूरी 25 की 25 सीटें जीतेगी।

गौरतलब है कि सीताराम अग्रवाल पिछले दिनों हुए विधानसभा चुनाव में जयपुर की विद्याधर नगर सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी थे। उनके सामने बीजेपी की दीया कुमारी थी। इस चुनाव में अग्रवाल दीया कुमारी के सामने भारी मतों के अंतर से हार गए थे।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.