Railway Minister ने कई गाड़ियों के विस्तार और नये विस्टाडोम डिब्बों को दिखाई हरी झंडी, कही उत्तर-पूर्व में बदलाव की बात

बनिहाल और बड़गाम के बीच विस्टाडोम कोच लगाना रेलवे की ओर से इस केंद्र शासित प्रदेश के विकास की दिशा में बड़ा कदम उठाया गया है। अत्याधुनिक डिजाइन वाले विस्टाडोम कोच से बड़ी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित किया जा सकेगा।

46

रेल मंत्री (Railway Minister) अश्विनी वैष्णव ने जम्मू और कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक साहा के साथ 19 अक्टूबर को वीडियो कन्फ्रेंसिंग के जरिये सप्ताह में तीन दिन चलने वाली दुल्बचेर्रा-गुवाहटी ट्रेन, अगरतला-सबरूम डेमू ट्रेन, गुवाहटी-सिकंदराबाद एक्सप्रेस को सिल्चर (असम) तक बढ़ाने और कामाख्या-लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस को अगरतला (त्रिपुरा) तक विस्तार को हरी झंडी (green signal) दिखाई। जम्मू और कश्मीर में बड़गाम- बनिहाल रेलगाड़ी के लिये नये विस्टाडोम डिब्बों (new Vistadome coaches)को भी हरी झंडी दिखाई गई।

जमीन पर दिख रहा उत्तर-पूर्व और जम्मू-कश्मीर में बदलाव
अश्विनी वैष्णव (Ashwini Vaishnav) ने इस अवसर पर कहा कि पिछले नौ वर्ष के दौरान, उत्तर-पूर्व के राज्यों और जम्मू-कश्मीर में काफी बदलाव देखा गया है और यह बदलाव जमीन पर स्पष्ट देखा जा सकता है। प्रधानमंत्री ने 60 बार से अधिक बार उत्तर-पूर्व राज्यों की यात्रा की है जो कि उनसे पहले रहे भारत के प्रधानमंत्रियों की यात्राओं से अधिक है। धारा 370 हटने के बाद से जम्मू और कश्मीर के विकास में तेजी आई है। हाल ही में जी20 की बैठकें जम्मू और कश्मीर राज्य में हुईं। इन दोनों क्षेत्रों में रेलवे की भी कई विकास परियोजनाएं चल रहीं हैं। रेलवे ने उत्तर-पूर्व क्षेत्र के लिये 10,269 करोड़ रुपये का वार्षिक बजट आवंटित किया है, जबकि इससे पहले यह 2,122 करोड़ रुपये के आसपास था। उत्तर-पूर्व राज्यों में रेलवे की विभिन्न परियोजनाएं तेजी से आगे बढ़ रहीं हैं। उत्तर-पूर्व के लिए दो वंदेभारत ट्रेन चलाने की भी योजना है। जम्मू और कश्मीर में चेनाब पुल, अंजी पुल, सुरंगों का विकास कार्य कुछ हिस्सों को छोड़कर पूरा हो चुका है। रेलवे उत्तर-पूर्व राज्यों में व्यापक बदलाव के लिये काम कर रहा है।

पर्यटकों को आकर्षित करेगा विस्टाडोम कोच
जम्मू और कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा (Manoj Sinha) ने इस अवसर पर कहा, ‘‘बनिहाल और बड़गाम के बीच विस्टाडोम कोच लगाना रेलवे की ओर से इस केंद्र शासित प्रदेश के विकास की दिशा में बड़ा कदम उठाया गया है। अत्याधुनिक डिजाइन वाले विस्टाडोम कोच से बड़ी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित किया जा सकेगा।’’ उन्होंने कहा कि हाल के समय में पर्यटन को काफी बढ़ावा मिला है और अब नये रेल रेलवे डिब्बों से क्षेत्र के विकास को और प्रोत्साहन मिलेगा।

व्यापार और पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा
त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक साहा ने कहा, ‘‘राज्य में रेल संपर्क को बढ़ाने के लिये हम प्रधानमंत्री और रेल मंत्री के आभारी हैं। इससे दूर दराज इलाकों में पहुंचना आसान होगा और राज्य में व्यापार और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।’’

सीएम बिस्वा ने जताया आभार
असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने पद संभालने के बाद से ही जम्मू और कश्मीर और उत्तर पूर्व के राज्यों के विकास पर जोर दिया है। यह एक महत्वपूर्ण दिन है जब असम में एक ट्रेन को आगे बढ़ाकर बराक घाटी तक तक पहुंचाया गया है, एक अन्य ट्रेन को अगरतला तक बढ़ाया जा रहा है, एक ट्रेन सूदुर दुल्बचेर्रा के लिये शुरू की जा रही है। मैं इस पहल के लिये प्रधानमंत्री और रेल मंत्री का धन्यवाद करता हूं।’’

ट्रेन नंबर 12514/12515 गुवाहटी – सिकंदराबाद एक्सप्रेस (साप्ताहिक) को सिल्चर (असम) तक विस्तार देने से बराक वैली (सिल्चर) और सिकंदराबाद के बीच सीधा रेल संपर्क उपलब्ध हो जायेगा। इससे निचले असम और बराक वैली के आसपास के क्षेत्रों के लोगों को लाभ होगा। ट्रेन की नियमित सेवा 21 अक्टूबर (शनिवार) से सिकंदराबाद से शुरू होगी।

सप्ताह में तीन दिन चलने वाली ट्रेन नंबर 15617/15618 दुल्बचेर्रा-गुवाहटी (गुवाहटी से – सोम, बुध, शनि और दुल्बचेर्रा से – मंगल, बृहस्पति और रविवार) चलने से दुल्बचेर्रा के सुदूर इलाके और गुवाहटी के बीच सीधा रेल संपर्क स्थापित होगा और इससे दुल्बचेर्रा के छात्रों, व्यवसायियों और व्यापारियों को फायदा होगा।

ट्रेन नंबर 12519/12520 कामाख्या-लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस (साप्ताहिक) को अगरतला (त्रिपुरा) तक विस्तार दिये जाने से त्रिपुरा की राजधानी और मुंबई के बीच सीधी रेल सेवा उपलब्ध हो जाएगी। इससे क्षेत्र के लोगों को, व्यापारियों और इलाज के लिये मुंबई जाने वाले त्रिपुरा के लोगों को लाभ मिलेगा। अगरतला तक इस रेलगाड़ी की नियमित सेवा 22 अक्टूबर (रविवार) को लोकमान्य तिलक टर्मिनल से शुरू होगी।

ट्रेन नंबर 07688/07687 अगरतला-सबरूम डेमू ट्रेन की शुरुआत से राज्य के दूरदराज इलाकों में रहने वाले लोगों को लाभ होगा और यह राज्य की राजधानी अगरतला तक सीधे रेल संपर्क उपलब्ध करायेगी। इससे राज्य में पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। ट्रेन नंबर 04688/04687 बड़गाम-बनिहाल रेलगाड़ी में अत्याधुनिक विस्टाडोम कोच की शुरूआत से राज्य में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और इनसे यात्रियों को यादगार यात्रा का अनुभव मिलेगा।

यह भी पढ़ें – भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की बड़ी बैठक, पीएम मोदी भी रहेंगे मौजूद

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.