Border dispute: चीन दौरे से लौटे नेपाल के विदेश मंत्री, भारत से सीमा विवाद को लेकर कही ये बात

विदेश मंत्री ने बीआरआई के बारे में सदन को जानकारी दी कि उसके कार्यान्वयन को लेकर राष्ट्रीय सहमति बनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि बीआरआई कार्यान्वयन को लेकर किसी समझौते पर हस्ताक्षर नहीं हुआ है।

79
xr:d:DAFy6mFdrvo:1523,j:807693954838023316,t:24040315

Border dispute: नौ दिनों के चीन भ्रमण से लौटे नेपाल के विदेश मंत्री नारायणकाजी श्रेष्ठ ने कहा कि वो अब भारत का दौरा करने को इच्छुक हैं। संसद में अपने चीन भ्रमण की जानकारी देते हुए विदेश मंत्री ने भारत भ्रमण की इच्छा जताई है।

किसी भी समझौते पर हस्ताक्षर नहीं
नौ दिनों के चीन भ्रमण को लेकर संसद के प्रतिनिधि सभा में विदेश मंत्री नारायणकाजी श्रेष्ठ ने कहा कि उनका चीन दौरा सफल रहा है। विदेश मंत्री ने बीआरआई के बारे में सदन को जानकारी दी कि उसके कार्यान्वयन को लेकर राष्ट्रीय सहमति बनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि बीआरआई कार्यान्वयन को लेकर किसी समझौते पर हस्ताक्षर नहीं हुआ है।

Lok Sabha Elections 2024: ‘सपा-बसपा और कांग्रेस एक्सपायरी डेट की दवा!’ जानिये केशव प्रसाद मौर्य ने विपक्ष पर और क्या कहा

भारत के लिए कही ये बात
विदेश मंत्री ने कहा कि अब उनकी इच्छा भारत भ्रमण को लेकर है। उन्होंने कहा कि भारत के साथ कुछ सीमा विवाद को तनाव से नहीं, बल्कि सौहार्दपूर्ण वातावरण में करने के लिए वो तैयार हैं। उन्होंने कहा कि नेपाल का भारत से ऐसा संबंध है कि आपसी संवाद के माध्यम से ही हर समस्या का समाधान किया जा सकता है। विदेश मंत्री ने कहा कि कूटनीति में रोष और आक्रोश नहीं, बल्कि संवेदनशीलता और सौहार्दपूर्ण रवैया अपनाना चाहिए। भारत के साथ जब भी बातचीत होगी, उनकी यही प्राथमिकता होगी।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.