Lok Sabha Election 2024: जानें राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव आयोग क्यों पंहुचा भाजपा का प्रतिनिधिमंडल?

2 मई (गुरुवार) शाम केन्द्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य चुनाव आयोग को राहुल गांधी और कांग्रेस के नेताओं के ट्वीट के विवरण सहित ज्ञापन सौंपा।

330

Lok Sabha Election 2024: भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के एक प्रतिनिधिमंडल ने 2 मई (गुरुवार) को मुख्य चुनाव आयुक्त (Chief Election Commissioner) से लोकसभा चुनावी रैलियों में संविधान को बदल डालने वाले दावे और एससी एसटी, ओबीसी आरक्षण को हटाने (Removal of SC ST, OBC reservation) वाले भ्रामक भाषण देने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी की शिकायत की है।

2 मई (गुरुवार) शाम केन्द्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य चुनाव आयोग को राहुल गांधी और कांग्रेस के नेताओं के ट्वीट के विवरण सहित ज्ञापन सौंपा। इस मौक पर प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी और ओम पाठक भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें-  pro-Palestinian Protesters: UCLA परिसर में घुसी पुलिस, दर्जनों फिलिस्तीन समर्थक प्रदर्शनकारियों को किया गिरफ्तार

संविधान बदलने देने का नैरेटिव चला
भाजपा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस चुनावों में लोगों को भ्रम में डालने के लिए गलत नैरेटिव का प्रचार कर रही है जो कि चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है। राहुल गांधी के भाषणों में भाजपा पर संविधान बदलने देने का नैरेटिव चला रही है जो कि गलत है। कांग्रेस अध्यक्ष भी इसी तरह के गलत और भ्रामक नैरेटिव दे रहे हैं। इसके साथ कांग्रेस एससी, एसटी और ओबीसी के आरक्षण को खत्म कर देने की भी गलत सूचनाएं लोगों तक पहुंचा रहे हैं।

यह भी पढ़ें- Women’s T20I: भारत ने बांग्लादेश को 7 विकेट से हराया, 3-0 की बनाई अजेय बढ़त

मुख्य चुनाव आयोग से शिकायत
यह कानून के साथ आचार संहिता का भी उल्लंघन है। चुनाव आयोग को इसके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। इसके साथ भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने ओडिशा की आईएएस अधिकारी व कमिशनर सुजाता पांडियन की भी मुख्य चुनाव आयोग से शिकायत की है। भाजपा का आरोप है कि वे चुनाव आयोग के स्वीप कार्यक्रम और सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग बीजू जनता दल को लाभ पहुंचाने के लिए कर रही हैं।

यह वीडियो भी देखें-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.