महाराष्ट्र में फिर लॉकडाउन! ऐसा इसलिए लिया जा सकता है निर्णय

महाराष्ट्र में लागू लॉकडाउन का सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल रहा है। कोरोना संक्रमितों के साथ ही इससे मरनेवालों की संख्या भी काफी कम होने से प्रदेश की महाविकास आघाड़ी सरकार उत्साहित है।

महाराष्ट्र में लॉकडाउन की समय सीमा 15 मई को समाप्त हो रही है। उसके बाद भी राज्य में लॉकडाउन जारी रहने की उम्मीद है। इसका कारण यह है कि प्रदेश में लागू लॉकडाउन का सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल रहा है। कोरोना संक्रमितों के साथ ही इससे मरनेवालों की संख्या भी काफी कम होने से प्रदेश की महाविकास आघाड़ी सरकार उत्साहित है और वह किसी भी तरह की ढीलाई देकर कोई जोखिम मोल लेना नहीं चा रही है।

बताया जा रहा है कि प्रदेश के ज्यादातर मंत्रियों का मानना है कि प्रदेश मे अगले कुछ दिनों तक लॉकडाउन लागू रहना चाहिए। हालांकि इस पर अंतिम मुहर मंत्रिमंडल की बैठक में लगने की बात कही जा रही है।

ये भी पढ़ेंः जानिये, अनुच्छेद 370 को भारत का आंतरिक मामला बताने वाले पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने क्यों लिया यू टर्न!

ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण पर नियंत्रण नहीं
राज्य के मुंबई जैसे शहरों में भले ही कोरोना रोगियों की संख्या घट रही है। लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में रोगियों की बढ़ती संख्या सरकार के लिए सिरदर्द बनी हई है। राज्य में 36 में से केवल 12 जिलों में संक्रमण दर घट रही है। इस तरह की परस्थिति में कई जिलों में स्थानीय प्रशासन ने सख्त प्रतिबंध लागू रखने का निर्णय लिया है। लेकिन लगता नहीं है कि उन्हें वह परिणाम मिल रहा है, जिसकी उन्हें उम्मीद है। इसलिए, अगर ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना की चेन को ब्रेक करना हो तो कम से कम कुछ दिनों के लिए पूरे राज्य में लॉकडाउन करना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here