Maratha Reservation: हिंगोली लोकसभा सांसद हेमंत पाटिल ने दिया इस्तीफा, मराठा आरक्षण की मांग को लेकर उठाया ये कदम

शिवसेना के सांसद हेमंत पाटिल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने मराठा आरक्षण की मांग को लेकर यह कदम उठाया है।

113

मराठा आरक्षण (Maratha Reservation) की मांग को लेकर हिंगोली लोकसभा क्षेत्र (Hingoli Lok Sabha Constituency) के सांसद हेमंत पाटिल (MP Hemant Patil) ने इस्तीफा (Resignation) दे दिया है। मराठा आरक्षण की मांग को लेकर प्रदर्शनकारियों (Protesters) की बैठक हुई। उस समय प्रदर्शनकारियों ने ‘मराठा आरक्षण का समर्थन करने के लिए सांसद से इस्तीफा देने’ की मांग की थी। इसके बाद हेमंत पाटिल ने तुरंत लोकसभा अध्यक्ष (Lok Sabha Speaker) के नाम अपना इस्तीफा लिखकर प्रदर्शनकारियों को दे दिया।

हेमंत पाटिल शिवसेना के टिकट पर हिंगोली लोकसभा क्षेत्र से चुने गए हैं। फिलहाल वह सीएम एकनाथ शिंदे की शिवसेना में हैं। मराठा आरक्षण के लिए किसी विधायक या सांसद द्वारा दिया गया यह पहला इस्तीफा है। इस्तीफा देने के साथ ही हेमंत पाटिल ने भूख हड़ताल का भी ऐलान किया है। प्रदर्शनकारियों ने हेमंत पाटिल से कहा कि ‘मराठा समुदाय को आरक्षण मिलना चाहिए और जारांगे के स्वास्थ्य को कुछ नहीं होना चाहिए।’ हेमंत पाटिल ने कहा कि दो दिन बाद मैं खुद मराठा आरक्षण की मांग को लेकर दिल्ली में भूख हड़ताल पर बैठूंगा।

यह भी पढ़ें- Kanpur: पीईटी परीक्षा में पकड़ा गया फर्जी छात्र, पुलिस ने किया गिरफ्तार

मराठा प्रदर्शनकारियों ने सांसद हेमंत पाटिल का घेराव किया
सांसद पाटिल यवतमाल के पोफाली में वसंत सहकारी चीनी फैक्ट्री आए थे। शनिवार 29 अक्टूबर को हदगांव में उनके काफिले को रोक लिया गया। इस बार विधायकों और सांसदों के खिलाफ नारे लगाए गए। मराठा आरक्षण के मुद्दे पर आक्रामक मराठा प्रदर्शनकारियों ने सांसद हेमंत पाटिल का घेराव किया। मराठा आरक्षण के सवाल पर मैंने दिल्ली में सांसदों की बैठक बुलाई, लेकिन अगर मराठा भाइयों की मांग होगी तो वह एक मिनट में इस्तीफा दे देंगे, ऐसा सांसद पाटिल ने इस बार कहा और लोकसभा अध्यक्ष को इस्तीफा लिखा।

आरक्षण आंदोलन का समर्थन करता हूं: पाटिल
महाराष्ट्र में मराठा समुदाय के लिए आरक्षण का मुद्दा कई वर्षों से लंबित है। इस मुद्दे पर सामुदायिक भावनाएँ प्रबल हैं और मैं कई वर्षों से मराठा समुदाय और किसानों के लिए लड़ने वाला एक कार्यकर्ता रहा हूँ। सांसद हेमंत पाटिल ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को लिखे अपने इस्तीफे में कहा है कि मैं आरक्षण आंदोलन का समर्थन करता हूं और आरक्षण के लिए अपने पद से इस्तीफा दे रहा हूं।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.