तमिलनाडु के नागपट्टिनम और श्रीलंका के कांकेसंथुराई के बीच नौका सेवा शुरू

विदेश मंत्रालय के अनुसार नौका सेवा शुरू करने के भारत सरकार के प्रयास पड़ोसियों और व्यापक हिंद महासागर क्षेत्र में कनेक्टिविटी बढ़ाने की सरकार की प्राथमिकता के अनुरूप हैं।

117

तमिलनाडु(Tamil Nadu) के नागपट्टिनम और श्रीलंका के उत्तरी प्रांत जाफना के पास कांकेसंथुराई (Kankesanthurai)  के बीच आज नौका सेवा शुरू हुई। जुलाई में श्रीलंका के राष्ट्रपति की भारत यात्रा के दौरान दोनों देशों के नेताओं ने इस नौका सेवा की घोषणा की थी। शिपिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया द्वारा संचालित हाई-स्पीड फेरी की क्षमता 150 पैक्स की है। नागपट्टिनम और केकेएस के बीच समुद्र की स्थिति के आधार पर लगभग 3.5 घंटे में 60 एनएम (110 किमी) की दूरी तय की जाएगी।

सुगम और सस्ती को कनेक्टिविटी
विदेश मंत्रालय के अनुसार नौका सेवा शुरू करने के भारत सरकार के प्रयास पड़ोसियों और व्यापक हिंद महासागर क्षेत्र में कनेक्टिविटी बढ़ाने की सरकार की प्राथमिकता के अनुरूप हैं। श्रीलंका और भारत के बीच सीधी यात्री नौका दोनों देशों के लोगों को सुगम और सस्ती को कनेक्टिविटी प्रदान करेगी। साथ ही पर्यटन और व्यापार संबंधों को बढ़ावा देगी और लोगों के बीच संबंधों को मजबूत करेगी। नौका दो बंदरगाहों के आसपास आर्थिक गतिविधियों को भी बढ़ाएगी और स्थानीय अर्थव्यवस्थाओं को मजबूत करेगी।

दोनों देशों के पीएम ने किया संबोधित
इस खास मौके पर भारत के प्रधानमंत्री और श्रीलंका के राष्ट्रपति ने वीडियो संदेश के जरिए संबोधित किया। बंदरगाह, जहाजरानी एवं विमानन मंत्री और विदेश मंत्री द्वारा संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाई गई। वेसल चेरियापानी ने अपनी उद्घाटन यात्रा में 50 यात्रियों के साथ श्रीलंका की यात्रा की और शाम तक श्रीलंका से यात्रियों को लेकर भारत वापस आ जाएगा। मंत्रालय के अनुसार भारत और श्रीलंका की सरकारें रामेश्वरम- तलाईमन्नार के बीच पारंपरिक मार्ग सहित अन्य बंदरगाहों के बीच नौका सेवाएं शुरू करने की दिशा में काम करना जारी रखेंगी।

यह भी पढ़ें – लश्कर के खिलाफ पंजाब पुलिस की बड़ी कामयाबी, दो आतंकी और…

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.