‘दिग्गी’ राजा ने फिर करा दी कांग्रेस की फजीहत, यह है पूरा मामला

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने एक ट्वीट कर कहा कि दिग्विजय सिंह ने जो कहा है, वह उनके निजी विचार है। यह कांग्रेस पार्टी के नहीं हैं।

कांग्रेस के नेता शब्द बाण तो बहुत अच्छा चला लेते हैं, लेकिन शायद उन्हें निशाना लगाना नहीं आता है। जिस शब्द बाण को वह छोड़ते हैं, उससे वह स्वयं ही घायल हो जाते हैं। ऐसा ही कुछ इस समय देखने को मिल रहा है। कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह (दिग्गी राजा) ने जिस तरह से सेना की वीरता पर सवाल उठाकर अपने आप को बड़ा बयानवीर समझ बैठे थे, उन्हीं दिग्गी राजा को आखिर में माफी मांगनी पड़ गई। उनके द्वारा सेना की सर्जिकल स्ट्राइक पर उठाए गए सवाल ने कांग्रेस की एक बार फिर फजीहत करा दी।

‘दिग्गी’ राजा की ऐसी बेइज्जती
मंगलवार को तो हद ही हो गई। पत्रकारों ने जब ‘दिग्गी’ राजा से सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में पूछना चाहा तो जयराम रमेश ने उन्हें धक्का देकर पीछे कर दिया और स्वयं माइक पकड़ ली। उसके बाद कांग्रेस के अन्य नेताओं ने दिग्गी राजा को घेर लिया, उनको मीडिया के सामने आने तक नहीं दिया। कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने मीडिया कर्मियों के प्रश्नों का उत्तर न देते हुए सिर्फ इतना कहा कि हमने सभी सवालों के जवाब दे दिए हैं। अब आप लोग जाकर प्रधानमंत्री से सवाल पूछें।

कांग्रेस ने बनाई दूरी
कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता ‘दिग्गी’ राजा ने सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाया है। उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगे हैं। दिग्गी राजा द्वारा सेना की वीरता पर उठाए गए सवाल पर भाजपा एक बार फिर आक्रामक हो गई है। खास बात यह है कि दिग्गी राजा के इस बयान पर कांग्रेस ने खुद को अलग कर लिया है और इसे उनका निजी विचार बताया है। कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने एक ट्वीट कर कहा कि दिग्विजय सिंह ने जो कहा है, वह उनके निजी विचार है। यह कांग्रेस पार्टी के नहीं हैं। 2014 से पहले यूपीए सरकार ने भी सर्जिकल स्ट्राइक की थी। उन्होंने आगे लिखा कि राष्ट्रहित में की गई सभी सैन्य कार्रवाईयों का कांग्रेस समर्थन करती है और करती रहेगी।

ये भी पढ़ें- सावरकर का अपमान मामलाः मुनगंटीवार ने विपक्ष पर साधा निशाना, राहुल गांधी के लिए कही ये बात

भाजपा हुई हमलावर
‘दिग्गी’ राजा के बयान पर भाजपा हमलावर हो गई है। भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि कांग्रेस नेताओं के बयान से पता चलता है कि राहुल गांधी की पदयात्रा सिर्फ नाम के लिए भारत जोड़ो यात्रा है। राहुल और उनकी पार्टी के सहयोगी देश को तोड़ने का काम कर रहे हैं। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि दिग्विजय सिंह हों यहा फिर कोई और जो भी सशस्त्र बलों के खिलाफ बोलेगा, भारत इसे बर्दाश्त नहीं करेगा।

क्या है विवादित बयान?
कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा इस समय जम्मू-कश्मीर में है। यात्रा में शामिल कांग्रेस के नेता ‘दिग्गी’ राजा ने 23 जनवरी को एक रैली के दौरान कहा कि पुलवामा हमला एक सुरक्षा चूक का परिणाम था। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। ‘दिग्गी’ राजा यहां ही नहीं रुके उन्होंने कहा कि 2016 में की गई सर्जिकल स्ट्राइक के कोई सबूत नहीं मिले हैं। पुलवामा आतंकी हमले पर कोई रिपोर्ट संसद के सामने पेश नहीं की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here