Sanatana Dharma: उदयनिधि स्टालिन के बयान पर भाजपा का पलटवार! जानिये, डीएमके के बारे में क्या कहा

उदयनिधि स्टालिन ने पिछले दिनों सनातन धर्म की तुलना कोरोना, मलेरिया आदि से की थी और इसे खत्म करने की बात कही थी। उनके बयान पर भाजपा ने पलटवार किया है।

39

सनातन धर्म विवाद पर तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन द्वारा अपने बेटे उदयनिधि स्टालिन का समर्थन किए जाने पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के. अन्नामलाई ने पलटवार किया है। तमिलनाडु भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के अन्नामलाई ने डीएमके को ही डेंगू, मलेरिया और मच्छर बताया है और कहा है कि इसे खत्म करने की जरूरत है।

चुनाव में डीएमके के नेता खुद को बताते हैं हिंदू
के. अन्नामलाई ने 7 सितंबर को एक्स हैंडल पर अपने बयान में कहा “डीएमके का कहना है कि वह ‘सनातन धर्म’ को खत्म करने जा रही है, हम कहेंगे कि हम रक्षा करेंगे और ‘सनातन धर्म’ को सुरक्षित रखें। सत्ता में आने के बाद पहले साल डीएमके ‘सनातन धर्म’ का विरोध कर रहे हैं, दूसरे साल आप इसे खत्म करने की बात कहते हैं ‘सनातन धर्म’, तीसरे साल आप ‘सनातन धर्म’ को बेरहमी से उखाड़ फेंकना चाहते हैं, चौथे साल आप कहते हैं कि आप हिंदू हैं, आप कहते हैं कि डीएमके पार्टी के 90 प्रतिशत लोग हिंदू हैं। पांचवें साल आप कहते हैं कि आप हिंदू हैं। आने वाले चुनावों में चुनौती देते हुए उन्होंने कहा कि इस बार डीएमके ‘सनातन धर्म’ पर चुनाव लड़ें। साल 2024 में एक पार्टी के रूप में द्रमुक का सफाया होने वाला है।

दही हांडीः दिन भर बारिश में भिगते रहे गोविंदा

उदयनिधि ने क्या कहा थाः
उदयनिधि स्टालिन ने पिछले दिनों सनातन धर्म की तुलना कोरोना, मलेरिया आदि से की थी और इसे खत्म करने की बात कही थी। इसके बाद 7 सितंबर को तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने उदयनिधि के बयान पर सफाई दी।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.