Sukhdev Singh Gogamedi Murder: अशोक गहलोत और डीजीपी के नाम दर्ज हुई FIR, सुखदेव की पत्नी ने तत्कालीन मुख्यमंत्री पर लगाया आरोप

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के सिलसिले में मामला दर्ज किया गया था। यह मामला पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और राज्य के डीजीपी के नाम पर दर्ज किया गया है।

880

राजस्थान (Rajasthan) में राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना (Rashtriya Rajput Karni Sena) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी (Sukhdev Singh Gogamedi) की हत्या (Murder) को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी शीला ने श्याम नगर थाने (Shyam Nagar Police Station) में मामला दर्ज (Case Registered) कराया है। इसमें हैरान करने वाली बात ये है कि शिकायत में पूर्व सीएम अशोक गहलोत (Former CM Ashok Gehlot) और राजस्थान के डीजीपी (DGP) का भी जिक्र किया गया है। एफआईआर में कहा गया है कि सुखदेव सिंह दो साल से अशोक गहलोत की सरकार में सुरक्षा की मांग कर रहे थे, लेकिन उन्हें सुरक्षा नहीं दी गई।

दरअसल, राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के खिलाफ चल रहा विरोध प्रदर्शन बुधवार देर रात खत्म कर दिया गया। धरने को संबोधित करते हुए जब सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी ने कहा कि पुलिस ने 72 घंटे के अंदर आरोपियों को गिरफ्तार करने का लिखित आश्वासन दिया है। फिलहाल इसके साथ ही उन्होंने श्याम नगर थाने में जाकर एफआईआर दर्ज कराई है, जिसमें राजस्थान के अशोक गहलोत और डीजीपी का जिक्र किया गया है।

यह भी पढ़ें- Jammu & Kashmir: ज्यादातर हिस्सों में रात के तापमान में और गिरावट दर्ज

एफआईआर में कई अन्य लोगों का भी जिक्र
सुखदेव सिंह की पत्नी शीला की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर में कहा गया है कि उनके पति सुखदेव सिंह पिछले दो साल से अपनी सुरक्षा के लिए अशोक गहलोत सरकार से सुरक्षा की मांग कर रहे थे, लेकिन जानबूझकर उन्हें कोई सुरक्षा नहीं दी गई। सुरक्षा मुहैया नहीं करायी गयी। इसके साथ ही इस एफआईआर में पंजाब पुलिस, एटीएस और कई अन्य लोगों का भी जिक्र किया गया है।

क्या था मामला?
आपको बता दें कि 5 दिसंबर को दोपहर में कुछ लोग सुखदेव सिंह से मिलने आये थे। जब सुखदेव सिंह उन सभी से मिल रहे थे, तभी अचानक उन्होंने अपनी बंदूकें निकाल लीं और उन पर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। जिससे इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। सुखदेव सिंह की पत्नी का आरोप है कि सुरक्षा की कमी के कारण उन पर यह हमला हुआ। सवाई मान सिंह अस्पताल में सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के शव का पोस्टमार्टम होने के बाद आज उनके पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए जयपुर के राजपूत भवन में रखा गया। जिसके बाद सुखदेव सिंह के पार्थिव शरीर को सड़क मार्ग से उनके पैतृक गांव गोगामेड़ी ले जाया जाएगा, जहां उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.