‘सिद्धू’ पर ग्रहण, जानिये चार माह में किस सिद्धू के साथ क्या हुआ?

सिद्धू नाम पर ही लगता है ग्रहण लगा हुआ है। जिस प्रकार से घटनाएं सामने आई हैं, वह कम से कम यहीं बता रही हैं।

सिद्धू नाम वालों के पीछे ग्रहण ही लग गया है। पिछले चार माह में सिद्धू नाम या उपनामवालों पर बज्राघात हुआ है। जिसमें दो की जान चली गई है तो तीसरा जेल में है।

सिद्धू मूसेवाला – शुभदीप सिंह उर्फ सिद्धू मूसेवाला किसान के बेटे थे। सर्वोत्कृष्ट गायक और अभिनेता थे। अपना यूट्यूब चैनल खोलकर गाना शुरू किया पहला एल्बम 295 रिलीज किया और युवाओं में छा गए। पंजाब विधान सभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा परंतु, विजयी नई हो पाए। इसे विधि का विधान ही कहा जाएगा कि जिस 295 एल्बम ने सिद्धू मूसेलावा को प्रसिद्धि के शिखर पर लाया था, उसी 295 यानी 29/5 को उन पर बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी। जिसमें 27 वर्षीय सिद्धू मूसेवाला की मौत हो गई।

ये भी पढ़ें – सत्येंद्र जैन की गिरफ्तारी पर क्या बोली आम आदमी पार्टी? जानिये, इस खबर में

नवजोत सिंह ‘सिद्धू’ – पंजाब कांग्रेस का बड़ा चेहरा रहे पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी नवजोत सिंह सिद्धू पटियाला जेल में हैं। वे 34 वर्ष पुराने रोड रेज के प्रकरण में दोषी हैं। इस प्रकरण में उन्हें सर्वोच्च न्यायालय ने एख वर्ष की सजा सुनाई है। सश्रम कारावास की सजा में सिद्धू को जेल में मुंशी का काम मिला है। कुछ माह पहले तक पंजाब के मुख्यमंत्री का स्वप्न देख रहे नवजोत सिंह सिद्धू का यह हश्र होगा इसकी उन्होंने कल्पना भी नहीं की होगी।

दीप सिद्धू – लालकिला हिंसा प्रकरण में प्रमुख आरोपियों में थे दीप सिद्धू। किसान यूनियन आंदोलन में उनकी प्रसिद्धी को पर लग गए। दीप सिद्धू गायक और अभिनेता थे और किसान परिवार से थे। 26 जनवरी, 2021 को जब किसान यूनियन की ट्रैक्टर परेड निकली और उसने हिंसक रूप धारण कर लिया तो, उसमें दीप सिद्धू भी थे। इस प्रकरण में उन्हें गिरफ्तार भी किया गया था। उन्हें बाद में जमानत मिल गई थी। 15 फरवरी, 2022 को वे अपनी मित्र के साथ दिल्ली से पंजाब के लिए निकले थे, सोनीपत जिले के कुंडली मानेसर पलवल एक्सप्रेस वे खरखौदा टोल प्लाजा के पास उनकी कार एक ट्रॉला से टकरा गई, जिसमें दीप सिद्धू की तत्काल मौत हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here