Jammu and Kashmir: कठुआ हमले के बाद तीर्थयात्रियों की बढ़ाई गई सुरक्षा, जानिये कैसे रखी जा रही है चप्पे-चप्पे पर नजर

जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले के सुदूर माचेडी इलाके में 7 जुलाई की दोपहर आतंकवादियों ने सेना के काफिले पर घात लगा कर हमला किया था।

71

Jammu and Kashmir: कठुआ जिले में आतंकवादियों के हमले के बाद जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। आतंकियों की तलाश में 9 जुलाई को भी पूरे क्षेत्र में अभियान चलाया जा रहा है।

अधिकारियों ने बताया कि हमले के बाद केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवानों को उधमपुर में राष्ट्रीय राजमार्ग पर तैनात किया गया है। यह कदम इसलिए उठाया गया क्योंकि अमरनाथ यात्रा के 11वें जत्थे के तीर्थयात्री 9 जुलाई की सुबह उधमपुर से गुजरे। तीर्थयात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सुरक्षाबलों ने बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की है।

हमले में पांच जवान हुतात्मा
दरअसल, जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले के सुदूर माचेडी इलाके में 7 जुलाई की दोपहर आतंकवादियों ने सेना के काफिले पर घात लगा कर हमला किया था। इस हमले में पांच जवान हुतात्मा हो गए और पांच जवान घायल हो गए थे। हमले में घायल पांचों जवानों को पठानकोट के सैन्य अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया है। बिलावर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की चिकित्सा अधिकारी शीला देवी ने पत्रकारों को बताया कि पांच घायल जवानों को यहां लाया गया और उनका प्राथमिक उपचार किया गया। उन्हें पठानकोट के सैन्य अस्पताल में रेफर कर दिया गया है।

PM Modi Russia Visit: राष्ट्रपति पुतिन ने पीएम मोदी की अपील पर जताई सहमति, ‘भारतीयों की जल्द होगी देश वापसी’

चार स्थानों पर आतंकी हमला
इससे पहले 9 जून से रियासी, कठुआ और डोडा में चार जगहों पर आतंकी हमले हुए थे, जिसमें नौ तीर्थयात्री की मौत हो गई थी और एक केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल का जवान हुतात्मा हो गया था। इन हमलों में 41 तीर्थयात्री और कम से कम सात सुरक्षाकर्मी भी घायल हुए हैं।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.