Vaishvik Hindu Rashtra Mahotsav: सद्गुरु डॉ. चारुदत्त पिंगळे ने वैश्विक हिंदू राष्ट्र महोत्सव में देशद्रोहियों को घेरा, जानिए लोकसभा चुनाव मुद्दे पर क्या कहा

अखिल भारतीय हिन्दू राष्ट्र अधिवेशन इस वर्ष 24 जून से पोंडा के ‘श्री रामनाथ देवस्थान’ में प्रारंभ हो रहा है तथा यह अधिवेशन 30 जून तक चलेगा।

92

हिन्दू जनजागृति समिति (Hindu Janajagruti Samiti) द्वारा आयोजित ‘वैश्विक हिन्दू राष्ट्र महोत्सव’ (Global Hindu Nation Festival) का शुभारम्भ सोमवार (24 जून) को फोंडा (Ponda) के रामनाथी स्थित श्री रामनाथ देवस्थान (Shri Ramnath Devasthan) के विद्याधिराज हॉल में ‘जयतु जयतु हिन्दुराष्ट्र’ (Jaitu Jaitu Hindu Nation) के उत्साहपूर्ण जयघोष और संतों की उपस्थिति के साथ हुआ।

सत्र की शुरुआत धार्मिक प्रतिष्ठान के देवता भगवान कृष्ण के चरणों में श्रद्धा सुमन अर्पित करने और भगवान गणेश की पूजा करने से हुई। देश-विदेश से विविध हिन्दू संगठनों के पदाधिकारी और कार्यकर्ता इस महोत्सव में भाग लेने के लिए आयोजन स्थल पर आए। वर्ष 2012 में ‘अखिल भारतीय हिन्दू राष्ट्र सम्मेलन’ के नाम से प्रारंभ हुआ यह सम्मेलन इस वर्ष 12 वर्ष मना रहा है। चूंकि इसमें विभिन्न देशों के प्रतिनिधि भी भाग ले रहे हैं, इसलिए सम्मेलन का नाम बदलकर ‘वैश्विक हिन्दू राष्ट्र सम्मेलन’ कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें- Lok Sabha Oath Ceremony: प्रधानमंत्री मोदी सहित पूरे कैबिनेट ने 18वीं लोकसभा के सदस्य के रूप में ली शपथ

लोकसभा चुनाव का परिणाम चिंताजनक: डाॅ. चारुदत्त पिंगळे
कार्यक्रम में अपने भाषण में हिन्दू जनजागृति समिति के राष्ट्रीय मार्गदर्शक सद्गुरु डाॅ. चारुदत्त पिंगळे (Sadguru Dr. Charudutta Pingale) ने कहा कि इस बार का लोकसभा चुनाव का परिणाम चिंताजनक रहा है। पंजाब से खालिस्तान समर्थक अमृतपाल चुना गया है। कश्मीर से रशीद नामक सांसद चुना गया है, जो कश्मीर को विभाजित करने के षड्यंत्र में शामिल है। गोवा से विरिएटो फर्नांडीस नामक कांग्रेस सांसद चुना गया, जिसने कहा कि संविधान हम पर थोपा गया है।

देशद्रोहियों का हथियार लोकतंत्र की खामियां!
चुनाव में ऐसे देशद्रोही लोग चुने गए हैं, अब संसद में शपथ लेते समय वे संविधान की झूठी शपथ लेंगे, क्या यह लोकतंत्र का मजाक नहीं है? कल ये सांसद पंजाब को भारत से अलग करने, कश्मीर को विभाजित करने, गोवा राज्य को अलग करने का प्रस्ताव रखेंगे, लोकतंत्र की खामियां देशद्रोहियों का हथियार बन गई हैं।

भारत को जल्द ही आतंकवादी संगठनों का सफाया कर देना चाहिए
आगे डॉ. पिंगळे कहते हैं कि जिहादी अब भारत पर हमला कर रहे हैं। वे भारत को इस्लामिक राज्य बनाना चाहते हैं। इस जिहाद का मुकाबला करने के लिए हिंदुओं को सतर्क रहना चाहिए। इजरायल का उदाहरण लें, इजरायल अकेले ही अपने आस-पास के इस्लामिक जिहादी देशों को खत्म कर रहा है। सद्गुरु ने कहा कि जिस तरह वहां आतंकवादी संगठनों का सफाया किया गया है, भारत को भी वही नीति अपनानी चाहिए।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.