Ration distribution scam case: गिरफ्तार मंत्री ज्योतिप्रिय के कमरे में लगेगा सीसीटीवी? जानिये क्या है खबर

ईडी के वकील ने अदालत में दलील दी कि चूंकि मंत्री के रूप में मल्लिक एक बेहद प्रभावशाली व्यक्ति हैं, इसलिए वह अस्पताल में रहते हुए भी सबूतों के साथ छेड़छाड़ करने की व्यवस्था करने में सक्षम हैं।

335

ईडी ने राशन वितरण मामले(ration distribution scam caseः में गिरफ्तार पश्चिम बंगाल के मंत्री के अस्पताल के कमरे में सीसीटीवी लगाने के लिए 30 नवंबर को कोलकाता की एक विशेष अदालत में अपील की। वन मामलों के मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक, जो राज्य के पूर्व खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री हैं, दक्षिण कोलकाता में सरकारी एसएसकेएम मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में भर्ती हैं। गंभीर बेचैनी और सीने में दर्द की शिकायत के बाद उन्हें इस सप्ताह की शुरुआत में दक्षिण कोलकाता के प्रेसीडेंसी सेंट्रल करेक्शनल होम से यहां स्थानांतरित किया गया था।

 30 नवंबर को ईडी के वकील ने अदालत में दलील दी कि चूंकि मंत्री के रूप में मल्लिक एक बेहद प्रभावशाली व्यक्ति हैं, इसलिए वह अस्पताल में रहते हुए भी सबूतों के साथ छेड़छाड़ करने की व्यवस्था करने में सक्षम हैं।

Delhi Excise Scam: सत्येंद्र जैन की याचिका पर 1 दिसंबर को आएगा फैसला, न्यायालय से की है ये मांग

ईडी के वकील ने दी दलील
ईडी के वकील ने अदालत में दलील दी कि उस कमरे में सीसीटीवी लगाए जाने चाहिए, जहां मंत्री रहते हैं और सीसीटीवी के लिंक केंद्रीय एजेंसी के अधिकारियों को उपलब्ध कराए जाने चाहिए, ताकि केंद्रीय एजेंसी सभी आगंतुकों पर नजर रख सके। हैरानी की बात यह है कि मल्लिक के वकील ने गुरुवार को भी अपने मुवक्किल की ओर से कोई जमानत याचिका दायर नहीं की, हालांकि उन्होंने दलील दी कि मंत्री की चिकित्सीय स्थिति को देखते हुए उन्हें उचित इलाज दिया जाना चाहिए, क्योंकि उनकी दोनों किडनी ठीक से काम नहीं कर रही हैं। 27 अक्टूबर को मल्लिक की गिरफ्तारी के बाद से उनके वकील ने उनकी ओर से कोई जमानत याचिका दायर नहीं की है। हिन्दुस्थान समाचार /ओम प्रकाश /गंगा

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.