नेपाल के रास्ते भारत में घुस रहे थे पाकिस्तानी मां-बेटे, SSB जवानों ने किया गिरफ्तार

भारत-नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी की 41वीं बटालियन के जवानों और पानी टंकी बीआईटी के सुरक्षाकर्मियों ने दैनिक जांच के दौरान नेपाल की ओर से भारत में प्रवेश कर रहे एक महिला और एक बच्चे को हिरासत में लिया है।

437

पाकिस्तान (Pakistan) के रहने वाले मां-बेटे (Mother-Son) को भारत-नेपाल सीमा (India-Nepal Border) से गिरफ्तार (Arrested) किया गया है। यह कार्रवाई बुधवार (15 नवंबर) शाम को की गई। भारत-नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी सुरक्षाकर्मी (SSB Security Personnel) हर दिन की तरह जांच कर रहे थे। इस दौरान दो पाकिस्तानी नागरिक (Pakistani National) भारत (India) में घुसने की कोशिश कर रहे थे। एसएसबी 41वीं बटालियन (SSB 41st Battalion) के जवानों (Soldiers) ने पानी टंकी बीओपी के पास उसे पकड़ लिया।

हिरासत में लिए गए दोनों पाकिस्तानी मां-बेटे हैं। महिला का नाम शाइस्ता हनीफ बताया जा रहा है। उनकी उम्र 62 साल है। उसके पति का नाम मोहम्मद हनीफ बताया गया। उनका बेटा 11 साल का है, जिसका नाम आर्यन बताया जा रहा है। ये लोग गहनमार स्ट्रीट, सराफा बाजार, कराची, पाकिस्तान के रहने वाले हैं।

यह भी पढ़ें- Chhath Puja 2023: लोक आस्था के महापर्व छठ के लिए मिट्टी का चुल्हा बनाने में जुटी महिलाएं

महिला के पास से पाकिस्तानी नागरिकता के सबूत मिले
एसएसबी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, ये मां-बेटे नेपाल से भारत में प्रवेश कर रहे थे। इस पर एसएसबी 41वीं बटालियन ने महिला और बच्चे को रोक लिया। उनसे पहचान पत्र दिखाने को कहा गया, लेकिन वह कोई वैध पहचान पत्र नहीं दिखा सकी। संदेह होने पर बीआईटी सुरक्षाकर्मियों ने महिला के बैग की तलाशी ली। इस दौरान महिला के पास से पाकिस्तानी नागरिकता के सबूत मिले।

भारत में प्रवेश करते समय गिरफ्तार
एसएसबी सुरक्षाकर्मी पाकिस्तानी मां-बेटे से पूछताछ कर अग्रिम कार्रवाई में जुटे हैं। गौरतलब है कि इससे पहले भी इस सीमा पर पाकिस्तान समेत अन्य देशों के नागरिकों को अवैध रूप से भारत में प्रवेश करते समय गिरफ्तार किया जा चुका है। पिछले साल भी एक महिला को गिरफ्तार किया गया था। हालांकि, अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि दोनों मां-बेटे यहां क्यों आ रहे थे और किससे मिलने आ रहे थे।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.