सोशल मीडिया से टेरर फंडिंग, एनआईए निदेशक का बड़ा खुलासा

भारत में सोशल मीडिया के माध्यम से टेरर फंडिग इकट्ठा की जा रही है। इसका खुलासा नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी के निदेशक दीपांकर गुप्ता ने किया है। भारत में टेरर फाइनेन्सिंग पर रोक के लिए दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मंत्रिस्तरीय बैठक होनी है, जिसमें इस विषय पर कदम उठाए जाने की पहल होगी।

विश्व में आतंकी गतिविधियों को समाप्त करने के लिए वित्त पोषण पर लगाम लगाना आवश्यक है। इसके लिए भारत में ‘नो मनी फॉर टेरर’ कॉन्फ्रेन्स का आयोजन किया जा रहा है। यह अंतरराष्ट्रीय मंत्रिस्तरीय कॉन्फ्रेन्स है, परंतु इसमें पाकिस्तान, अफगानिस्तान सम्मिलित नहीं हो रहे हैं। चीन की ओर से भी इसमें सम्मिलित होने का कोई स्पष्टीकरण नहीं मिला है। इस कॉन्फ्रेन्स में विश्व के 78 देश व संगठन एक साथ होंगे तथा 20 देशों के मंत्री हिस्सा लेंगे।

ये भी पढ़ें – रणजीत सावरकर ने नेहरू के कुकर्मों को प्रमाण सहित किया उजागर

एनआईए के निदेशक ने बताया कि, इस बैठक में भारत, आतंकवाद पर वैश्विक एकता बनाने का प्रयत्न करेगा, जिसमें साइबर अपराध, सोशल मीडिया पर रोक के लिए कमजोर नियंत्रण प्रणाली और उसका आतंकवादी, कट्टरवादी समूह, डार्क वेब और क्रिप्टो करेंन्सी के संचालकों द्वारा उपयोग पर रोक लगाने का मुद्दा उठाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here