लव जिहाद: एक और हिन्दू लड़की बनी शिकार, मुस्लिम युवक ने उतार दिया मौत के घाट 

पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लिया और त्वरित कार्रवाई करते हुए मोहम्मद शरीक को गिरफ्तार कर लिया। इसके साथ ही पुलिस ने आरोपी के पास से कपड़ों से भरा बैग भी बरामद किया है।

देश में हिन्दू लड़कियों पर अत्याचार के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। अभी श्रद्धा हत्याकांड मामले में पुलिस तफसीस कर ही रही है कि अब चंडीगढ़ से ऐसी ही एक घटना सामने आई है। मुस्लिम युवक ने हिन्दू लड़की को प्रेम जाल में फंसाकर निर्मम हत्या कर दी। आरोपी बिहार के मधुबनी जिले का रहने वाला है, जिसका नाम मोहम्मद शरीक है, जो 25 साल का है। वहीं, मृतका का नाम ममता बताया जा रहा है, जो 18 साल की थी।

पहले प्रेम जाल में फंसाया और फिर कर दी हत्या
मिली जानकारी के अनुसार दोनों पड़ोसी थे। इस बीच मोहम्मद शरीक ने पहले हिन्दू लड़की ममता से दोस्ती की और फिर मीठी-मीठी बातें कर उसे अपने जाल में फंसा लिया। मोहम्मद शरीक ने ममता को अपने शादीशुदा होने तक की भी बात नहीं बताई। लेकिन जब लड़की को उसके शादीशुदा होने की बात पता चली तो उसने उससे दूरी बना ली। इसी बात को लेकर शरीक ने उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। यह भी आशंका जताई जा रही है कि हत्या से पहले उसके साथ दुष्कर्म भी हुआ है। इसकी शिकायत ममता की मां पुलिस से की है।

यह भी पढ़ें -लव जिहाद: उप्र के ‘आफताब’ ने भी हिंदू लड़की के कर दिए टुकड़े, दो साल बाद ऐसे उठा पर्दा

पुलिस हिरासत में भेजा गया आरोपी
पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लिया और त्वरित कार्रवाई करते हुए मोहम्मद शरीक को गिरफ्तार कर लिया। इसके साथ ही पुलिस ने आरोपी के पास से कपड़ों से भरा बैग भी बरामद किया है। इससे यह कहना गलत नहीं होगा कि आरोपी मोहम्मद शरीक भागने की फिराक में था। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे दो दिन की पुलिस हिरासत पर भेज दिया गया है।

लड़की के घर में दिया घटना को अंजाम
ममता की मां ने पुलिस को अपनी शिकायत में बताया था कि सोमवार को मैं काम पर चली गई, छोटा बेटा भी स्कूल चला गया था। इस दौरान ममता घर में अकेली थी। इसी का फायदा उठाकर आरोपी घर में घुसा और मेरी बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी। शाम को जब मैं वापस घर लौटी तो बेटी बिस्तर पर पड़ी मिली। उसका शरीर नीला पड़ गया था। उसके गले पर कई निशान थे। लड़की की मां ने पुलिस को बताया कि ममता और आरोपी शरीक पहले एक-दूसरे से मिलते थे, लेकिन जब मेरी बेटी को पता चला कि शरीक शादीशुदा है तो उसने उससे दूरी बना ली। जिसके बाद शरीक उसको कई बार फोन भी किया, लेकिन ममता ने ना तो फोन उठाया और ना ही रिप्लाई दिया। इसी के चलते वह मेरी बेटी से नफरत करने लगा था और उसने आखिर मेरी बेटी को मार डाला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here