मुंबई की निर्भया की मौत, अब सीसीटीवी फुटेज ही खोलेगा राज? पुलिस का क्षेत्र में लगा जमावड़ा

साकीनाका में हुई घटना और गणेशोत्सव की शुरुआत के कारण पुलिस अब सतर्क है।

शहर के साकीनाका क्षेत्र में पुलिस को विशेष साक्ष्य मिले हैं। जिनमें आरोपी पीड़िता की बेरहमी से पिटाई कर रहा है। उसने बहुत ही जघन्य तरीके से इस कांड को किया है, इसका साक्ष्य भी अब पुलिस के पास है। दूसरी ओर मुंबई के वरिष्ठ अधिकारी साकीनाका क्षेत्र में नजर रखे हुए हैं। इस बीच मुंबई की इस निर्भया को भी प्रयत्नों के बाद बचाया नहीं जा सका है।

30 वर्षीय निर्भया को वो पीटता है, मारते-मारते बेदम कर देता है और इसके बाद उसे पास खड़ी एक टेंपो में फेंक देता है, इतने से जब मन नहीं भरा तो वह क्रूरता की सीमाएं पार करते हुए उसके निजी अंग पर लोहे की छड़ से हमला कर देता है। इसके बाद पुलिस को फोन पर इस घटना की जानकारी मिलती है, जिसके बाद पुलिस पीड़िता को अस्पताल ले गई। लेकिन, इस निर्भया को भी बचाया नहीं जा सका है। इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया है। अब पुलिस के पास सीसीटीवी फुटेज ही सबसे बड़ा साक्ष्य है। जिसके भरोसे इस प्रकरण के दोषी को सजा दिलाई जा सकती है।

ये भी पढ़ें – मुख्यमंत्री होने का बाद भी ममता बनर्जी के पास इतनी संपत्ति…जानें सोना और जमा राशि

साक्ष्यों से मिलेगी कड़ी सजा
साकीनाका पुलिस थाने के अंतर्गत हुई इस जघन्य घटना ने दिल्ली में घटित निर्भया की याद ताजा कर दी है। पुलिस ने प्रकरण की गंभीरता देखते हुए क्षेत्र में लगे सीसीटीवी फुटेज को तलाशना शुरु किया तो उसके हाथ अहम साक्ष्य लगा है। जिसमें आरोपी मोहन चौहान पीड़िता को बुरी तरहसे पीटते हुए दिख रहा है। इसके बाद वह उसे टेंपो में फेंककर चला गया।

पुलिस ने किया गिरफ्तार
यह घटना साकीनाका के खैरानी रोड की बताई जा रही है। जिसमें पुलिस ने आरोपी मोहन चौहान को गिरफ्तार कर लिया है। इसमें अन्य लोगों भी शामिल थे क्या इसकी भी जांच पुलिस कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here