जिस आफताब को दिया दिल, वो निकला कसाई! पढ़ें, लव जिहाद की क्रूर कहानी

आफताब देर रात लड़की की लाश के कुछ टुकड़ों को लेकर निकलता और दक्षिणी दिल्ली के जंगल में फेंक देता।

दिल्ली में लव जिहाद का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसने दिल्ली से लेकर मुंबई ही नहीं, पूरे देश में सनसनी फैला दी है। मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। रोंगटे खड़े कर देने वाले इस लव जिहाद मामले के आरोपी का नाम आफताब पूनावाला है। दोनों दिल्ली में लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आफताब ने लड़की के 35 टुकड़े किए और उसके अंगों को दिल्ली के जंगलों में ठिकाने लगा दिया। मामले का पर्दाफाश तब हुआ, जब लड़की के माता-पिता ने अपनी बेटी की खोज शुरू की।

माता-पिता ने रिलेशनशिप का किया विरोध
पुलिस के अनुसार आरोपी आफताब और लड़की दोनों मुंबई के एक कॉल सेंटर में काम करते थे। इसी दौरान आफताब ने उसे प्रेम जाल में फंसाना शुरू कर दिया। भोलीभाली लड़की भी उसके झांसे में आ गई। दोनों के रिश्ते का लड़की के घर वालों ने विरोध किया, तो उन्होंने मुंबई छोड़ने का फैसला किया। उसके बाद दोनों दिल्ली चले गए। वहां वे महरौली के छतरपुर में किराए पर घर लेकर रहने लगे।

गला दबाकर की हत्या, फिर किए 35 टुकड़े
पुलिस रिपोर्ट के अनुसार जल्द ही लड़की को सच्चाई का अहसास हो गया। जब वह आफताब पर शादी करने का दबाव बनाने लगी तो आफताब उससे झगड़ा करने लगा। पुलिस रिपोर्ट के अनुसार 18 मई को दोनों में काफी झगड़ा हुआ। आफताब ने लड़की की गला दबाकर हत्या कर दी और उसके 35 टुकड़े कर दिए। अपराध को छिपाने के लिए वह एक 300 लीटर का फ्रीज ले आया और शव के टुकड़े उसमें रख दिए।

18 दिनों तक जंगल में फेंकता रहा लाश के टुकड़े
पुलिस में दर्ज रिपोर्ट के अनुसार आफताब देर रात लाश के कुछ टुकड़ों को लेकर निकलता और दक्षिणी दिल्ली के जंगल में फेंक देता। 18 दिनों में उसने पूरी लाश को ठिकाने लगा दिया और वह निश्चिंत हो गया कि अब उसके अपराध पर से पर्दा नहीं उठ पाएगा। इस तरह छह महीने हो चुके थे। इस बीच लड़की के माता-पिता को जब लंबे समय तक बेटी का कोई कॉल नहीं आया और सोशल मीडिया पर भी जब वो एक्टिव नहीं दिखी, तो वे शक होने लगा।

बेटी की तलाश में दिल्ली पहुंचे पिता
पालघर में रहने वाले लड़की के पिता अपनी बेटी की तलाश में दिल्ली पहुंच गए। वे लड़की के फ्लैट में पहुंचे तो वहां कोई नहीं था। उसके बाद उन्होंने बेटी के गुम होने की शिकायत पुलिस में दर्ज कराई। उन्होंने शक जताया कि उसकी बेटी की गुमशुदगी में आफताब का हाथ हो सकता है।

आफताब ने कबूला अपना अपराध
पुलिस ने लड़की के पिता द्वारा लिखाई गई शिकायत के आधार पर जांच पड़ताल शुरू की। जल्द ही पुलिस ने आफताब को गिरफ्तार कर लिया। गहनता से पूछताछ के दौरान आफताब ने अपना अपराध मान लिया। उसने बताया कि श्रद्धा शादी का दबाव बना रही थी। इसे लेकर दोनों में झगड़ा हुआ था। फिलहाल पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। न्यायालय ने आरोपी को 5 दिनों की पुलिस कस्टडी में भेज दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here