Kedarnath Dham: हेलीकॉप्टर में आई तकनीकी खराबी, पायलट की सूझबूझ से सभी यात्री सुरक्षित

बताया गया है कि इस हेलिकॉप्टर ने सुबह 7:30 बजे हमेशा की तरह छह यात्रियों को लेकर केदारनाथ धाम के लिए गमन किया।

339

Kedarnath Dham: सेरसी से केदारनाथधाम (Kedarnath Dham) जा रहा हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त (helicopter crash) होने से बाल- बाल बच गया। इस हेलिकॉप्टर का रोटर अचानक खराब (rotor suddenly) हो गया। पायलट की सूझबूझ से बड़ा हादसा टल गया । इसमें सवार छह यात्री और पायलट सुरक्षित हैं । यह हेलिकॉप्टर क्रिस्टल एविएशन (Helicopter Crystal Aviation) का है।

बताया गया है कि इस हेलिकॉप्टर ने सुबह 7:30 बजे हमेशा की तरह छह यात्रियों को लेकर केदारनाथ धाम के लिए गमन किया। केदारनाथ में हेलीपैड से मात्र 100 मीटर पहले हेलिकॉप्टर का रोटर खराब हो गया। पायलट ने धैर्य और सूझबूझ का परिचय देते हुए हेलिकॉप्टर को कच्ची मिट्टी में उतार दिया। ईश्वर की कृपा से सभी लोग सुरक्षित हैं।

यह भी पढ़ें- Bangladedhi MP Murder: बांग्लादेश के सांसद हत्याकांड में आरोपी गिरफ्तार, पूछताछ करने ढाका पहुंची बंगाल सीआईडी

जांच अधिकारी नियुक्त
सूचना मिलते ही प्रशासन ने कुछ समय के लिए सभी हेली सेवाओं पर विराम लगा दिया। इसकी जांच के लिए जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है। केदारनाथ धाम के लिए इस बार नौ हेली सेवाओं को अनुमति प्रदान की गई है। आरोप है कि डीजीसीए तथा युकाडा के मानकों के इतर सभी हेली सेवाएं संचालित हो रही हैं।

यह भी पढ़ें- Lok Sabha Elections: ‘बीजेपी को समर्थन विकास की राजनीति में दर्शाता है लोगों का विश्वास’- पीएम मोदी

तीर्थयात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाला
ना ही कंपनियां हेली सेवा मानकों के सापेक्ष ऊंचाई मेंटेन कर रही हैं और ना ही सुरक्षात्मक मानकों के साथ चल रही हैं। पुराने हो चुके हेलिकॉप्टर में यात्रियों को ढूंस कर केदारनाथ धाम की यात्रा करवाई जाती है। मानकों के अनुसार जब तक रोटर बंद ना हो तब तक ना ही तीर्थयात्रियों को बाहर निकाला जाता है और ना ही सवारियों को अंदर बैठाया जाता है।

यह वीडियो भी देखें-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.