जहांगीरपुरी का हथियार सप्लायर गिरफ्तार

राष्ट्रीय राजधानी के उत्तर पश्चिमी जिले के जहांगीरपुरी हिंसा में आरोपित को हथियार देने का आरोपित गुल्ली को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित से पूछताछ के बाद पुलिस ने इस बात का खुलासा किया कि गोली चलाने वाले आरोपित को गुल्ली ने ही पिस्तौल दी थी।

दिल्ली हिंसा की जांच पड़ताल के दौरान जानकारी मिलने के आधार पर पुलिस लगातार अलग-अलग जगहों पर छापेमारी कर रही थी। मंगलवार को गुलाम रसूल उर्फ गुल्ली को पुलिस को आखिरकार गिरफ्तार करने में कामयाबी मिल ही गई। पुलिस आरोपित से पूछताछ कर रही है।

ये भी पढ़ें – जम्मू में जेहादी उपदेशक बने यूपी और हैदराबाद के कठमुल्ले

तीन नाबालिग समेत 25 दबोचे गए
मंगलवार को दिल्ली पुलिस ने जहांगीरपुरी हिंसा मामले में अपनी रिपोर्ट केंद्रीय गृह मंत्रालय को सौंपी दी है। रिपोर्ट में इस बात की जानकारी भी दी गई है कि इस मामले में अब तक कुल 25 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिनमें 22 बालिग और तीन नाबालिग हैं। रिपोर्ट में दिल्ली पुलिस ने शनिवार शाम को हुई उक्त घटना की जानकारी देते हुए बताया है कि यह घटना असामाजिक तत्वों की सोची समझी साजिश का हिस्सा थी, जिसे दिल्ली पुलिस ने समय रहते नाकाम कर दिया।

पहले था बालिग अब हो गया नाबालिग
दबोचे गए आरोपितों में से एक युवक को पहले बालिग बताया गया था, लेकिन जब उसके घरवालों ने उसके नाबालिग होने के दस्तावेज दिए तो उसे भी बाल सुधार गृह भेज दिया गया। इसके पहले इस मामले में केवल दो नाबालिग लोगों को पकड़ा गया था।

पुलिस अब तक सामने आए वीडियो के साथ ही हथियार चलाने की घटनाओं की सभी तरह की फॉरेंसिक बैलेस्टिक जांच कराई जा रही है। जिनके आधार पर वैज्ञानिक तरीके से पूरी तरह से पहचान स्थापित कर लोगों को गिरफ्तार किया जा रहा है। इस मामले में अबतक करीब 80 से ज्यादा लोगों की पहचान की गई है, जिनकी भूमिका की जांच चल रही है।

मंगलवार को भी हुई एक और गिरफ्तारी
वहीं मामले की जांच में जुटी दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने हिंसा मामले में मंगलवार को एक और आरोपित गुलाम रसूल उर्फ गुल्ली को गिरफ्तार किया है। आरोपित गुल्ली पर यह आरोप है कि उसने सोमवार को गोली चलाने के आरोप में गिरफ्तार हुए सोनू चिकना को हथियार मुहैया कराया था।

फिलहाल पुलिस उससे पूछताछ कर यह पता लगा रही हे कि उसने हथियार क्यों मुहैया कराया था ? क्या पैसों के लालच में? या फिर हिंसा की साजिश के लिए ? ताकि उसकी भूमिका साफ जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here