बंगाल में हिंसा जारी, प्रशासन ने निपटने के लिए उठाए कई कड़े कदम

हावड़ा के पांचला बाजार इलाके में सुबह के समय सैकड़ों की संख्या में सड़कों पर उतरे मुसलमानों ने आगजनी, तोड़फोड़ और दुकानों में लूटपाट शुरू कर दी।

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता से सटे हावड़ा में इंटरनेट सेवा बंद और कर्फ्यू लगने के बावजूद मुस्लिम समुदाय के लोगों ने लगातार तीसरे दिन 11 जून को जमकर हिंसा की। हावड़ा के पांचला बाजार इलाके में सुबह के समय सैकड़ों की संख्या में सड़कों पर उतरे मुसलमानों ने आगजनी, तोड़फोड़ और दुकानों में लूटपाट शुरू कर दी। मौके पर तैनात पुलिस की टीम को घेरकर चारों ओर से पत्थर मारे गए। इसमें पुलिस के कई जवान घायल हुए हैं। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए अतिरिक्त संख्या में पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे और हल्के बल प्रयोग के बाद आंसू गैस के गोले दागे लेकिन फिर भी हिंसा रोकी नहीं जा सकी।

यह भी पढे-मध्य रेलवे पर रविवारीय मेगा ब्लॉक, यात्रा के पहले पढ़ लें ये रिपोर्ट

हिंसा का जो वीडियो सामने आया है, उसमें देखा जा सकता है कि चारों ओर से घिरे पुलिस कर्मियों पर मुस्लिम समुदाय के लोग पत्थरबाजी कर रहे हैं। पुलिस वाले इधर से उधर भागते नजर आ रहे हैं।

यह है पूरा मामला
उल्लेखनीय है कि पैगंबर मोहम्मद पर निलंबित भाजपा नेता नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल की कथित आपत्तिजनक टिप्पणी के खिलाफ पूरे देश में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। पश्चिम बंगाल में विगत 9 जून से ही मुस्लिम सड़कों पर उतर गए थे। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस पर नाराजगी जाहिर करते हुए चेतावनी दी थी कि बंगाल में उग्र प्रदर्शन नहीं होना चाहिए लेकिन 10 जून को भी दिनभर हावड़ा और कोलकाता के विभिन्न हिस्सों में हिंसा, आगजनी, तोड़फोड़, लूटपाट और पुलिस पर पथराव हुआ। हावड़ा के कई इलाकों में पुलिसकर्मियों पर बमबारी भी की गई। इसके बाद देर शाम जिलाधिकारी ने कर्फ्यू की घोषणा की। रात होते-होते पूरे जिले में इंटरनेट सेवा 13 जून तक के लिए निलंबित कर दी गई। बावजूद इसके 11 जून को एक बार फिर हिंसा भड़की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here