Advancement in Endurology Conference: भारतीय यूरोलॉजिस्ट्स ने सर्जरी, डायग्नोस्टिक्स और रिसर्च में पूरे विश्व में अपनी साख बनाई है- अमित शाह

ये सम्मेलन अपने आप में अनूठा है क्योंकि यहां आपके ज्ञान, अनुभव और शोध का एक्सचेंज ना सिर्फ भारत बल्कि पूरे विश्व के लिए फायदेमंद साबित होगा। इस सम्मेलन में 75 भारतीय और 25 अंतर्राष्ट्रीय इंस्टीट्यूट्स को आमंत्रित किया गया है।

766

Advancement in Endurology Conference: केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने गुजरात के अहमदाबाद (Ahmedabad) में छठे एडवांसमेंट इन एंडयूरोलॉजी सम्मेलन को संबोधित करते कहा कि ये गर्व की बात है कि भारतीय यूरोलॉजिस्ट्स (Indian Urologists) ने यूरोलॉजी के क्षेत्र में सर्जरी, डायग्नोस्टिक्स (diagnostics) और रिसर्च में ना केवल भारत बल्कि पूरे विश्व में अपनी साख (reputation) भी बनाई है और लोहा भी मनवाया है। उन्होंने कहा कि ये सम्मेलन अपने आप में अनूठा है क्योंकि यहां आपके ज्ञान, अनुभव और शोध का एक्सचेंज ना सिर्फ भारत बल्कि पूरे विश्व के लिए फायदेमंद साबित होगा। इस सम्मेलन में 75 भारतीय और 25 अंतर्राष्ट्रीय इंस्टीट्यूट्स को आमंत्रित किया गया है। उन्होंने कहा कि गुजरात हमेशा से देश में यूरोलॉजी के क्षेत्र में अग्रणी रहा है।

स्वास्थ्य सुधारने का अभियान
अमित शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने होलिस्टिक अप्रोच के साथ देश के 60 करोड़ गरीबों, कुपोषण से ग्रसित बच्चों और महिलाओं के स्वास्थ्य को सुधारने का एक अभियान चलाया। उन्होंने कहा कि केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने देश में स्वास्थ्य के बजट को, जो 2013-14 में 33,000 करोड़ रूपए था, 2023 तक 1,33,000 करोड़ रूपए तक पहुंचाने का काम किया। शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने मॉडर्न मेडिकल साइंस से जुड़े पूरे इन्फ्रास्ट्रक्चर और मानव संसाधन में बढ़ोतरी की शुरुआत की।

अफॉर्डेबल स्वास्थ्य सुविधाओं को बढ़ाने की शुरुआत
उन्होंने कहा कि इसके बाद हमने किसी को रोग ही न हो, इसके लिए कई अभियान और आंदोलन शुरू किए और फिर मॉडर्न और भविष्य की तकनीक के ज़रिए देश के हर हिस्से तक पहुंचने के लिए अफॉर्डेबल स्वास्थ्य सुविधाओं को बढ़ाने की शुरुआत की है। शाह ने कहा कि पीएम मोदी द्वारा शुरू किए गए स्वच्छता अभियान और देश में 10 करोड़ टॉयलेट बनने के बाद जनआरोग्य, विशेषकर महिलाओं और बच्चों के स्वास्थ्य, में बहुत बड़ा सुधार हुआ है।

फिट इंडिया, खेलो इंडिया और पोषण अभियान शुरू किए गए
उन्होंने कहा कि स्वच्छता आंदोलन और टॉयलेट बनाने के अभियान के बाद फिट इंडिया, खेलो इंडिया और पोषण अभियान शुरू किए गए। उन्होंने कहा कि आज मिशन इंद्रधनुष के तहत देश में एक भी बच्चा ऐसा नहीं है जिसे 9 साल के अंदर कंप्लीट वैक्सीनेशन फ्री ऑफ कॉस्ट नहीं लगता है।  शाह ने कहा कि देश के 60 करोड लोगों को 5 लाख रुपए तक की स्वास्थ्य सुविधाएं आज फ्री ऑफ कॉस्ट मिलती हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने जेनेरिक दवाइयों को देशभर में जनऔषधि केंद्रों के माध्यम से देशवासियों तक पहुंचाने की शुरुआत की गई। इसके साथ ही इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ाया गया है और वेलनेस सेंटर के तहत 60,000 करोड़ रूपए पब्लिक हेल्थ सेंटर और कम्युनिटी हेल्थ सेंटर को अपग्रेड करने के लिए दिए गए हैं। साथ ही मिशन डायलिसिस, मातृत्व योजना, टीबी उन्मूलन और इस प्रकार के कई अभियानों से एक हॉलिस्टिक अप्रोच के साथ हम आगे बढ़े हैं।

यह भी पढ़ें – Mathura: जन्मभूमि न्यास मेवात में ईदगाह मस्जिद के लिए 10 एकड़ जमीन देने को तैयार

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.