कतर में आठ भारतीयों को मौत की सज़ा के ख़िलाफ़ भारत ने दायर की अपील

भारतीयों को मौत की सजा का अदालती फैसले को सिर्फ कानूनी टीम के साथ शेयर किया गया है। इसलिए विदेश मंत्रालय कतर के साथ इस मामले को लेकर लगातार संपर्क में है।

321

कतर में भारत (India) के आठ पूर्व सैनिकों को सुनाई गई मौत की सजा के खिलाफ अपील दायर कर दी है। नई दिल्‍ली में पत्रकारों से बात करते विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची (Arindam Bagchi) ने कहा कि कतर (Qatar) में पूर्व भारतीय सैनिकों की सजा का मामला बेहद संवेदनशील है और ऐसे मामलों में अनुमान या अटकलबाजियों से बचना चाहिए।

प्रभावितों को न्यायिक और राजनयिक सहयोग देगा विदेश मंत्रालय
उन्होंने बताया कि भारतीयों को मौत की सजा का अदालती फैसले को सिर्फ कानूनी टीम के साथ शेयर किया गया है। इसलिए विदेश मंत्रालय (foreign Ministry) कतर के साथ इस मामले को लेकर लगातार संपर्क में है। बागची ने कहा कि कतर की अदालत के फैसले से प्रभावित लोगों के पारिवारिक सदस्यों से विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने बातचीत की है। साथ ही विदेश मंत्रालय सभी प्रभावित लोगों को हर तरह की न्यायिक और राजनयिक सहयोग प्रदान कर रहा है।

जासूसी का है आरोप
बता दें कि कतर में आठ पूर्व भारतीय सैनिकों को जासूसी के आरोप में गिरफ्तार करके उनपर मुकदमा चलाया गया । फिर वहां की कोर्ट ने उन सभी को जासूसी के आरोप में दोषी ठहराते हुए फांसी की सजा सुना दी है। कतर के इस निर्णय पर भारत सरकार ने काफी आश्चर्य प्रकट किया था।

यह भी पढ़ें – NIA ने खालिस्तानी अमृतपाल की अवैध संपति से जब्त किए एक करोड़ रुपये

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.