कोरोना का बढ़ा खतराः हरियाणा में अस्पतालों के लिए जारी हुई ये गाइडलाइंस

कोरोना की नई गाइडलाइन के बाद हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का 24 दिंबर को अंबाला में लगने वाला जनता दरबार आगामी आदेश तक स्थगित कर दिया गया है।

हरियाणा के सभी अस्पतालों में डयूटी देने वाले स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी अब मास्क पहनकर डयूटी करेंगे। केंद्र सरकार के निर्देश पर स्वास्थ्य निदेशालय ने 23 दिसंबर को प्रदेश के सभी सिविल सर्जनों तथा उपमंडल अधिकारियों के लिए गाइडलाइन जारी कर दी है। यह गाइडलाइन जल्द से जल्द लागू करने के निर्देश दिए गए हैं।

स्वास्थ्य विभाग की महानिदेशक सोनिया त्रिखा खुल्लर ने जारी निर्देशों में कहा है कि सभी अस्पतालों में अलग से फ्लू कार्नर बनाए जाएं। कोविड टेस्ट के लिए अलग से विंडो बनाकर अस्पताल में आने वाली मरीजों की कोरोना जांच की जाए। निदेशालय के अनुसार सभी स्वास्थ्य कर्मियों को डयूटी के दौरान मास्क पहनना अनिवार्य है। अस्पतालों ने सेनिटाइजर की व्यवस्था की जाएगी।

दिल्ली लैब में भेजे जाएंगे सैंपल
निदेशालय ने निर्देश दिए हैं कि कोरोना पॉजिटिव आने वाले मरीजों के सैंपल रोजाना जीनोम टेस्टिंग के लिए दिल्ली लैब में भेजे जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग की महानिदेशक ने प्रदेश के सभी चिकित्सकों को टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट, वैक्सीनेट और फोलो के आधार पर कोरोना का इलाज करने के निर्देश देते हुए कहा है कि तत्काल प्रभाव से सभी जिला अस्पताल अपने पास आने वाले मरीजों का डाटा अपलोड करके मुख्यालय को भेजेंगे।

यह भी पढ़ें – भारत-बांग्लादेश दूसरा टेस्ट मैच: अब तक भारत ने बनाए ‘इतने’ रन

गृह मंत्री विज का जनता दरबार स्थगित
कोरोना की नई गाइडलाइन के बाद हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का 24 दिंबर को अंबाला में लगने वाला जनता दरबार आगामी आदेश तक स्थगित कर दिया गया है। विज के कार्यालय से जारी जानकारी के अनुसार यह फैसला कोरोना बढ़ने की आशंका को देखते हुए लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here