History of 14 June: वो तारीख, जब पड़ी भारत के बंटवारे की नींव

14 जून को ही कांग्रेस कार्यसमिति ने भारत विभाजन के लिए माउंटबेटन योजना के प्रस्ताव को स्वीकृति के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के समक्ष रखा था। अगले दिन इस प्रस्ताव पर सहमति बनी और उसे स्वीकार कर लिया गया।

103

History of 14 June: देश-दुनिया के इतिहास में 14 जून की तारीख तमाम अहम वजह से दर्ज है। वैसे तो हर तारीख अपने अंदर कोई न कोई कहानी समेट कर रखती है। ऐसी ही एक तारीख है-14 जून , 1947। इसी तारीख को कांग्रेस कार्यसमिति ने भारत विभाजन के लिए माउंटबेटन योजना के प्रस्ताव को स्वीकृति के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के समक्ष रखा था। अगले दिन इस प्रस्ताव पर सहमति बनी और उसे स्वीकार कर लिया गया। कहते हैं कि कुछ लोग ‘निजी स्वार्थ’ के लिए सियासी लकीर खींचने को तैयार हो गए। यह ऐसी लकीर है, जिसने सबकुछ तकसीम कर दिया था। इस तकसीम में मुल्क, कौम, रिश्ते, नदी-तालाब ही नहीं इंसान भी भेंट चढ़ गए। खूनी खेल खेला गया। भारत (हिन्दुस्तान) का जिस्म बंट गया। दोनों अलग हुए और एक हिस्सा पाकिस्तान बन गया। इकबाल की पेशीन गोई और जिन्ना का ख्वाब ताबीर की जुस्तजू में भटकता हुआ पंजाब के उस पार पहुंच गया। कारवां आर-पार होते हुए अपने अनजाने मंजिल की तरफ रवाना हो गए।

Kovai Kondattam: कोयंबटूर के कोवई कोंडट्टम वाटर पार्क में बच्चों के साथ गर्मियों का लें आनंद

इस तकसीम में तमाम औरतों और बच्चियों का बलात्कार हुआ। इन वाकयात पर मंटो अपने अफसानों में कहते हैं, ” मैं उन बरामद की हुई लड़कियों और औरतों के मुताल्लिक सोचता तो मेरे जेहन में सिर्फ फूले पेट उभरते हैं। इन पेटों का क्या होगा। इनमें जो कुछ भरा है, उसका मालिक कौन है, पाकिस्तान या हिन्दुस्तान।” कांग्रेस के प्रस्ताव स्वीकार करने के बाद इस योजना की घोषणा भारत के अंतिम वायसराय लॉर्ड माउंटबेटन ने नई दिल्ली में की थी। 1930 में मुसलमानों के लिए अलग राज्य की मांग करने वाले पहले व्यक्ति अल्लामा इकबाल थे। 1947 की यह तारीख दोनों मुल्कों के बीच नफरत के जो बीज बो गई थी, वह आज खतरनाक पेड़ बन चुका है।

महत्वपूर्ण घटनाचक्र

1634ः रूस और पोलैंड के बीच पोलियानोव शांति समझौते पर हस्ताक्षर हुए।

1658ः ड्यून्स के युद्ध में ब्रिटिश और फ्रांसीसी सेना ने स्पेन को हराया।

1775ःअमेरिकी सेना की स्थापना।

1777ः अमेरिकी कांग्रेस ने एक बैठक में देश के लिए 13 लाल और सफेद धारियों वाले नये झंडे का स्वरूप निर्धारित किया। इस दिन को 1885 से अमेरिका में झंडा दिवस के रूप में मनाया जाता है।

1901ः पहली बार गोल्फ प्रतियोगिता का आयोजन।

1907: नॉर्वे में महिलाओं को मतदान का अधिकार मिला।

1917ः इंग्लैंड पर जर्मनी का पहला हवाई हमला। पूर्वी लंदन में 100 से ज्यादा लोगों की मौत।

1934: ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना में हिटलर और मसोलिनी की मुलाकात।

1940 : दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान जर्मन तानाशाह हिटलर के नेतृत्व में पश्चिमी यूरोप पर तकरीबन एक महीने तक हवाई हमले करने के बाद जर्मन सेना फ्रांस की राजधानी पेरिस में घुसी।

1945 : वायसराय लार्ड वावेल ने भारत के शीर्ष राजनीतिक नेताओं से मिलने की इच्छा जाहिर की और इस दौरान जो नेता जेलों में बंद थे, उन्हें रिहा कर दिया गया।

1947ः कांग्रेस कार्यसमिति ने भारत विभाजन के लिए माउंटबेटन योजना के प्रस्ताव को स्वीकृति के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के समक्ष रखा।

1958ः डॉ. सीवी रमन को लेनिन शांति पुरस्कार प्रदान किया गया।

1962ः पेरिस में यूरोपीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की स्थापना। इसका नाम बाद में बदल कर यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी कर दिया गया ।

1999ः थाबो मबेकी दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति निर्वाचित।

2001ः नेपाल में जांच आयोग ने दीपेन्द्र को ही शाही परिवार का हत्यारा बताया।

2004ः पंचशील सिद्धान्त की 50वीं वर्षगांठ पर बीजिंग में अंतरराष्ट्रीय सेमिनार।

2005ः माइकल जैक्सन बच्चों के साथ यौन दुर्व्यवहार से जुड़े 10 मामलों में बरी।

2007ः चीन के गोवी रेगिस्तान में पक्षीनुमा विशाल डायनसोर के जीवाश्म मिले।

2008ः नेपाल के पूर्व नरेश ज्ञानेन्द्र ने नारायणहिती महल खाली किया।

2012ः विशाखापत्तनम में भारतीय इस्पात संयंत्र में विस्फोट। 11 लोगों की मौत।

2013ः उत्तराखंड की केदारनाथ घाटी में तबाही। करीब पांच हजार से अधिक लोग इस त्रासदी का शिकार हुए।

2014ः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भारतीय नौसेना ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया।

जन्म

1905ः प्रसिद्ध संगीत साधिका हीराबाई बारोदकर।

1922ः फिल्म मुगल-ए-आजम के निर्देशक के.आसिफ।

1946ः अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप।

1928ः अर्जेंटीना के क्रांतिकारी नेता चेग्वेरा।

1969: जर्मनी की टेनिस स्टार स्टेफी ग्राफ। स्टेफी ने अपने करियर में 22 ग्रैंडस्लम जीते।

निधन
1920ः प्रसिद्ध जर्मन दार्शनिक एवं इतिहासकार मैक्स वेबर।

1961ः प्रसिद्ध भारतीय भौतिक वैज्ञानिक कार्यमाणिवकम श्रीनिवास कृष्णन।

2011ः रुद्रवीणा वादक असद अली खां।

2020ः अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत।

महत्वपूर्ण दिवस

-विश्व रक्तदान दिवस।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.