Haldwani: टेंट हाउस के गोदाम में लगी आग, पहचान करना हो रहा मुश्किल

वाकया रात करीब 12:00 बजे के आसपास का है। हल्द्वानी और रामनगर से पहुंची दमकल की करीब 22 गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद करीब तीन बजे आग पर नियंत्रण पाया। तीनों शव बुरी तरह झुलसे हुए हैं।

396
प्रतिकात्मक चित्र

उत्तराखंड के हल्द्वानी (Haldwani) में आनन्दपुरी नवावी रोड स्थित कुमाऊं टेंट हाउस के गोदाम (warehouse) में दीपावली की रात लगी आग में तीन लोगों की मौत (Death)  हो गई। यह तीनों यहां के कर्मचारी बताए गए हैं। वह गोदाम में सो रहे थे। आग से गोदाम का सारा सामान जलकर राख हो गया। इसकी पुष्टि एसपी सिटी हरबंस सिंह ने की है।

शवों की पहचान करना मुश्किल
उन्होंने बताया कि वाकया रात करीब 12:00 बजे के आसपास का है। हल्द्वानी और रामनगर से पहुंची दमकल की करीब 22 गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद करीब तीन बजे आग पर नियंत्रण पाया। तीनों शव बुरी तरह झुलसे हुए हैं। इसलिए उनकी पहचान करने में मुश्किल आ रही है।

छह कर्मचारी हैं कार्यरत
पुलिस के मुताबिक मुनीम खीम सिंह ने बताया है कि यह टेंट हाउस पुष्पा हैड़िया हल्द्वानी के नाम पर पंजीकृत है। देखरेख उनके बेटे गिरीश चन्द्र हैड़िया करते हैं। यहां कुल छह कर्मचारी कार्यरत हैं। इनमें से सुमेत निवासी मोहम्मदी खीरी उत्तर प्रदेश, गुड्डू उर्फ लालता प्रसाद निवासी धखिया बुजुर्ग खीरी उत्तर प्रदेश एवं नीरज कुमार निवासी धखिया बुजुर्ग नीमगांव उत्तर प्रदेश इस समय मौके पर मौजूद हैं।

टेंट हाउस के मुनीम खीम सिंह का कहना है कि रोहित पुरी (25)निवासी ग्राम मोहना गांव थाली नतोला धारी नैनीताल, रविन्द्र कुमार (31)निवासी गांधीनगर मालधन चौड़ रामनगर और कृष्णा निवासी मालधन चौड़ रामनगर लापता हैं। गोदाम में आग लगने से जलकर मरे तीन लोग यही हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें – Cricket World Cup: भारत के गेंदबाजी प्रयोगों का रोहित ने बताया कारण, जानें क्या

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.