अलविदा 2022ः इन अपराधियों के निर्माणों पर जमकर गरजा योगी का बुल्डोजर

2022 में उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ फिर से सत्ता में आए तो अपराधियों पर उनका शिकंजा कसता चला गया।

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार 2.0 बनने के बाद अपराधी और माफिया के खिलाफ पुलिस ने जमकर कार्रवाई की। 2022 में मेरठ में सोतीगंज के वाहन चोर माफिया की संपत्ति कुर्क की गई तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बुल्डोजर ने माफिया की संपत्ति को ध्वस्त कर दिया।

2022 में उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ फिर से सत्ता में आए तो अपराधियों पर उनका शिकंजा कसता चला गया। मेरठ जनपद में अपराधी और माफिया पर पुलिस का चाबुक चला। सोतीगंज के शातिर कबाड़ी हाजी गल्ला और उसके बेटों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की गई। अवैध रूप से अर्जित की गई इन माफिया की लगभग दस करोड़ की संपत्ति को पुलिस ने कुर्क किया।

सोतीगंज के अन्य कबाड़ियों की कुंडली खंगाल कर उनकी संपत्ति को भी जब्त किया जा रहा है। मछेरान इलाके के नशे के तस्कर तस्लीम पर गैंगस्टर एक्ट में शिकंजा कसा गया। तस्लीम और उसके परिवार की करोड़ों रुपए की संपत्ति को चिन्हित कर जब्त किया गया। पुलिस हिरासत से फरार हुए ढाई लाख के इनामी माफिया बदन सिंह बद्दो की करोड़ों रुपए कीमत की आलीशान कोठी को बुल्डोजर से जमींदोज किया गया। बद्दो द्वारा सरकारी पार्क पर कब्जा करके बनाई गई दुकानों को ध्वस्त करके कब्जा मुक्त कराया गया।

असम में उग्रवादी हमले में मारे गए अंतरराष्ट्रीय गो तस्कर अकबर बंजारा और उसके भाई सलमान बंजारा की कई करोड़ रुपए की संपत्ति को जब्त किया गया। इसके साथ ही लिसाड़ी रोड पर फतेहउल्लापुर स्थित अकबर बंजारा की अवैध मार्किट को बुल्डोजर से ढहाया गया। अंतरराष्ट्रीय मोबाइल तस्कर शरद गोस्वामी के गैंग की पुलिस ने कमर तोड़ दी। इस गैंग के पास से करोड़ों रुपए के चोरी के मोबाइल पुलिस ने बरामद किए। शरद गैंग भारत से मोबाइल चोरी करके नेपाल, बांग्लादेश आदि देशों में बेच देता था।

भूमाफिया यशपाल तोमर की नोएडा स्थित करोड़ों रुपए की संपत्ति को मेरठ पुलिस ने जब्त किया। मेरठ के एसएसपी रोहित सिंह सजवाण की अगुवाई में माफिया के खिलाफ पुलिस का अभियान दिसम्बर तक जारी है। एसएसपी का कहना है कि वर्ष 2023 में भी अपराधियों पर शिकंजा कसा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here