Gogamedi murder case: वांछित शूटर्स रोहित शर्मा और नितिन फौजी गिरफ्तार, जानें वांछितों तक कैसे पहुंची पुलिस

गोगामेड़ी को मौत के घाट उतारने के बाद तीनों राजस्थान से हरियाणा के हिसार पहुंचे। यहां से मनाली गए। इसके बाद मनाली से चंडीगढ़ पहुंचे।

754

 श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड (Gogamedi murder case) में वांछित शूटर (Wanted shooters) रोहित राठौर और नितिन फौजी को चंडीगढ़ (Chandigarh) से पुलिस ने गिरफ्तार (arrested) कर लिया है। इन दोनों का सहयोगी उधम भी पकड़ा गया है। यह सभी सेक्टर-22 के एक होटल में रुके थे।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अपराध दिनेश एमएन के अनुसार तीनों को शनिवार देररात होटल में दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया गया। इस कार्रवाई को राजस्थान पुलिस और दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने संयुक्त रूप से अंजाम दिया। तीनों को सबसे पहले दिल्ली क्राइम ब्रांच के ऑफिस ले जाया गया है। वहां से इन्हें जयपुर लाया जाएगा।

टेक्निकल सर्विलांस के जरिए अपराधियों तक पहुंची पुलिस
उन्होंने बताया कि गोगामेड़ी को मौत के घाट उतारने के बाद तीनों राजस्थान से हरियाणा के हिसार पहुंचे। यहां से मनाली गए। इसके बाद मनाली से चंडीगढ़ पहुंचे। पुलिस इन तक टेक्निकल सर्विलांस (technical surveillance) के जरिए पहुंची। इससे पहले शनिवार को जयपुर पुलिस ने शूटर्स की मदद करने वाले रामवीर जाट को गिरफ्तार किया था। रामवीर, नितिन फौजी का दोस्त है। दिल्ली पुलिस को शनिवार दोपहर दो बजे इनके चंडीगढ़ में होने की पुख्ता जानकारी मिली थी। दिल्ली पुलिस के एडीजी (क्राइम ) रविंद्र सिंह ने राजस्थान पुलिस से यह जानकारी साझा की। इसके बाद जयपुर पुलिस कमिश्नर बीजू जॉर्ज जोसफ ने इनकी गिरफ्तारी का जाल बिछाया।

यह भी पढ़ें – America: यहूदी विरोध पर पेंसिलवेनिया विवि की अध्यक्ष का इस्तीफा, जानें क्या है मामला

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.