कानपुर में 1200 बैंक खातों से करोड़ों की धोखाधड़ी, ऐसे था आरोपियों का ठगी का खेल

कानपुर में एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश हुआ है जिसमें 1200 लोग शामिल हैं। पुलिस ने जब संदिग्ध आरोपियों से पूछताछ की तो पता चला कि यह गिरोह अब तक करोड़ों रुपये की ठगी कर चुका है।

754

कानपुर (Kanpur) से धोखाधड़ी (Fraud) का एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। बेंगलुरु (Bengaluru) में दर्ज शिकायत के बाद बेंगलुरु पुलिस (Bengaluru Police) कानपुर पहुंची और कोहाना पुलिस स्टेशन (Kohana Police Station) और कानपुर क्राइम ब्रांच (Kanpur Crime Branch) की टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए उस गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार (Arrested) किया, जो किराए पर लोगों से बचत खाते लेकर उनमें धोखाधड़ी की रकम ट्रांसफर कर रहे थे। वहीं पुलिस पूरे मामले की गंभीरता से जांच कर रही है, बेंगलुरु पुलिस आरोपी को लेकर चली गई।

कानपुर पुलिस को बेंगलुरु पुलिस से सूचना मिली कि 17 नवंबर को कानपुर के हालसी रोड स्थित आईसीआईसीआई बैंक के एक चालू खाते में 1 करोड़ 20 लाख रुपये जमा किए गए हैं। इन 1 करोड़ 20 लाख रुपये में से 1 करोड़ 11 लाख रुपये अलग-अलग खातों में ट्रांसफर किए गए। इस सूचना पर कोहना थाने की पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने संयुक्त रूप से जांच शुरू की।

यह भी पढ़ें- पूर्व अमेरिकी विदेश मंत्री किसिंजर का 100 वर्ष की आयु में निधन

किराए के बचत खातों में धनराशि का स्थानांतरण
पुलिस ने जब दोनों अपराधियों शुभम तिवारी और शिवम यादव से पूछताछ की तो पता चला कि ये लोग बैंक खाताधारकों से उनका ओटीपी पूछकर ठगी करते हैं। धोखाधड़ी की रकम चालू खाते में जमा कराएं। इसके बाद उस रकम को किराए पर लिए गए बचत खातों में ट्रांसफर कर दिया जाता है। अब तक की जांच से पता चला है कि ये लोग करीब 1200 लोगों के बचत खाते किराए पर लेते थे और उनमें फर्जी रकम ट्रांसफर करते थे।

महिला से 4 लाख 24 हजार रुपये की ठगी
संयुक्त पुलिस आयुक्त आनंद प्रकाश तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि बेंगलुरु पुलिस से कॉल आने पर कोहाना थाने को सूचना मिली कि वहां रहने वाली एक महिला से ओटीपी पूछकर 4 लाख 24 हजार रुपये की धोखाधड़ी की गई है। बेंगलुरु पुलिस ने कानपुर पहुंचकर दोनों आरोपियों से पूछताछ की और उन्हें बेंगलुरु ले गई। आनंद प्रकाश तिवारी ने भी इस मामले में जांच की बात कही है।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.