अमृतसर के अस्पताल में आग ही आग, 600 रुग्णों की जान धोखे में पड़ी

दिल्ली की आग शांत हुए कुछ घंटे ही बीतें थे कि, पंजाब के अमृतसर में भी बड़ी आग लग गई।

अमृतसर के गुरुनानक अस्पताल में आग लग गई है। आग ट्रांसफॉर्मर में धमाके के बाद लगी है। जिससे अस्पताल में भगदड़ की स्थिति बन गई थी। अस्पताल प्रशासन ने तत्काल कार्रवाई करते हुए 600 रुग्णों को बाहर निकाला गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरु नानक देव अस्पताल के एक्स रे यूनिट के पिछले हिस्से में ट्रांसफार्मर रखा हुआ था। इसमें धमाका होने की प्रारंभिक सूचना मिली है। जिससे फैली आग ने अस्पताल को अपने घेरे में ले लिया। आग लगते ही, अस्पताल प्रशासन ने तत्परता से 600 रुग्णों को बाहर निकाला। इस सबके बीच कई ऑपरेशन भी चल रहे थे, जहां से डॉक्टर और उपचाराधीन लोगों को भी बाहर निकाला गया।

अस्पताल से बाहर निकाले गए रुग्णों को सड़क पर लाया गया था, जिससे उनकी जान को धोखा निर्मित न हो। बचाव दल ने मरीजों को निकालने के लिए खिड़की के शीशे भी तोड़े गए हैं। आग की लपटों ने अस्पताल को अपने घेरे में ले लिया।

आग लगने की सूचना मिलते ही राज्य के मंत्री @AAPHarbhajan वहां पहुंच गए। उन्होंने सड़क पर सुरक्षित निकाल गए बीमारों से बात की और उन्हें सांत्वना दी।

ऐसे फैली आग
दोपहर लगभग 2 बजे आउट पेशेंट वॉर्ड के पिछले भाग में स्थित एक्स रे यूनिट के पीछे दो ट्रासफॉर्मर लगे हुए थे। इनसे अस्पताल में बिजली प्रवाहित हो रही थी। इनमें से एक में अचानक धमाका हो गया। जिससी चिंगारियों ने अस्पताल को तेजी से घेर लिया। इस घटना की सूचना मिलते ही पुलिस, अग्निशमन दल और अस्पताल के कर्मचारी सक्रिय हो गए। आग लगने के समय अस्पताल में लगभग 650 मरीज उपचार हेतु उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here