Interim Budget 2024: संसद में बजट पेश कर रही हैं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, कहा- ‘गरीबों का कल्याण, देश का कल्याण’

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में अंतरिम बजट पेश कर दिया है। यहां सुनें वित्त मंत्री का पूरा बयान।

200

संसद (Parliament) का बजट सत्र (Budget Session) गुरुवार (1 फरवरी) को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Union Finance Minister Nirmala Sitharaman) संसद में अंतरिम बजट (Interim Budget) पेश कर रही हैं। यह मोदी सरकार (Modi Government) के दूसरे कार्यकाल का आखिरी बजट होगा। वित्त मंत्री इस बार छठा बजट सदन में पेश कर रही हैं। मोरारजी देसाई के बाद सीतारमण ही दूसरी वित्त मंत्री हैं, जिन्हें छह बार बजट पेश करने का मौका मिला।

वित्त मंत्री का बजट भाषण शुरू
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में अंतरिम बजट पेश किया है। अंतरिम बजट पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि मोदी सरकार सबका साथ, सबका विकास पर काम कर रही है। 10 साल में इंडस्ट्री ने अच्छा प्रदर्शन किया।

यह भी पढ़ें- Earthquake: गुजरात के कच्छ में भूकंप से कांपी धरती, डर के मारे घरों से बाहर निकले लोग

गरीबों, महिलाओं, युवाओं और किसानों की आकांक्षाएं महत्वपूर्ण: वित्त मंत्री
‘पिछले 10 वर्षों में हमने सबको घर, हर घर को पानी, सबके लिए बैंक खाते जैसे काम रिकॉर्ड समय में पूरे किए हैं। 80 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन दिया गया। किसानों की उपज का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाया गया। संसाधनों का वितरण पारदर्शिता से किया गया है। हमने सामाजिक परिवर्तन लाने के लिए असमानता को खत्म करने का प्रयास किया है। प्रधानमंत्री के अनुसार, हम चार जातियों गरीबों, महिलाओं, युवाओं और किसानों पर फोकस कर रहे हैं। उनकी जरूरतें, उनकी आकांक्षाएं हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं।

2047 तक भारत विकसित राष्ट्र बनेगा: निर्मला सीतारमण
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में अपने बजट भाषण के दौरान कहा कि भारत 2047 तक एक विकसित राष्ट्र बन जाएगा।

गरीबों का कल्याण, देश का कल्याण: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण
हम ‘गरीबों का कल्याण, देश का कल्याण’ के मंत्र के साथ काम कर रहे हैं। ‘सबका साथ’ के लक्ष्य के साथ हमने 25 करोड़ लोगों को विभिन्न प्रकार की गरीबी से बाहर निकाला है।

देखें यह वीडियो-  

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.