Meera-Bhayander: दाऊद के इशारे पर चल रहे ड्रग्स कारोबार का भंडाफोड़, इन चार राज्यों तक फैला था जाल

2359

Meera-Bhayander से सटे काशीमीरा पुलिस(Kashmir Police) ने लगभग 327 करोड़ रुपये की ड्रग के साथ चार पिस्तौल भी जब्त(327 crore worth of drugs along with four pistols were also seized) की हैं। पुलिस ने इस मामले में तेलंगाना, गुजरात, उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र(Telangana, Gujarat, Uttar Pradesh and Maharashtra) के विभिन्न स्थानों से 15 लोगों को गिरफ्तार(15 people arrested) किया है। यह ड्रग रैकेट कुख्यात गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम(Notorious gangster Dawood Ibrahim) के इशारे पर उसका गुर्गा समील डोला चला रहा था।

यहां से शुरू हुई अपराध कथा
मीरा भायंदर-वसई विरार पुलिस आयुक्त मधुकर पांडे(Police Commissioner Madhukar Pandey) ने 3 जुलाई को पत्रकारों को बताया कि काशीमीरा पुलिस ने नालासोपारा से अभिषेक सिंह को गिरफ्तार कर उसके पास से एमडी ड्रग और चार पिस्तौल जब्त की थी। मधुकर पांडे ने बताया कि अभिषेक से कड़ी पूछताछ के बाद 15 मई को क्राइम ब्रांच ने शोएब मेमन और निकोलस टाइटस को ठाणे घोड़बंदर से दो करोड़ रुपये की ड्रग के साथ गिरफ्तार किया था। आगे की जांच में पुलिस ने दयानंद मुद्दनर और बाबा जेनेमिया शेख को हैदराबाद से और एक आरोपित को यहां नरसापुर से गिरफ्तार किया। इनके पास से 20 लाख 60 हजार रुपये कीमत का 103 ग्राम एमडी पाउडर, 25 करोड़ रुपये कीमत का 25 किलो कच्चा एमडी केमिकल और एमडी बनाने के लिए जरूरी अन्य सामग्री जब्त की गई।

मुंबई से हुई गिरफ्तारी
इसके बाद पुलिस ने दयानंद से मिली जानकारी के आधार पर धनश्याम सरोज और मोहम्मद मोइन को गोरेगांव, मुंबई से गिरफ्तार कर लिया गया। मोईन की कार में 14 लाख की कीमत एमडी ड्रग को जब्त कर किया गया। फिर पुलिस ने 27 मई को बाबू सिद्धेश जाधव को ठाणे से गिरफ्तार कर लिया और उसके घर से 53 हजार रुपये ड्रग बनाने का कच्चा माल जब्त कर लिया गया। इन आरोपितों से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने समील डोला को मुंबई से और जुल्फिकार उर्फ मुर्तजा कोठारी को सूरत से गिरफ्तार किया और उनके पास से 10.84 लाख रुपये नकद जब्त किए गए थे। पुलिस आयुक्त मधुकर पांडे ने बताया कि इन आरोपितों की निशानदेही पर काशीमीरा इलाके में एमडी ड्रग बनाने का कारखाना भी पुलिस ने ध्वस्त किया था। इस कारखाने में करीब तीन सौ करोड़ की एमडी ड्रग बनाने का सामान कच्चा माल जब्त किया गया था।

T-20 International Series: युवा भारतीय नई टीम जिम्बाब्वे के खिलाफ टी20 श्रृंखला के लिए पहुंची हरारे, यह खिलाड़ी करेगा कप्तानी

दाऊद इब्राहिम की शह पर चल रहा था कारखाना
पुलिस आयुक्त पांडे ने बताया कि अब तक की जांच में पता चला है कि यह कारखाना दाऊद इब्राहिम की शह पर समील डोला चला रहा था और गिरफ्तार किए गए आरोपित सीधे दाऊद से बात किया करते थे। मधुकर पांडे ने बताया कि इस मामले की गहन छानबीन जारी है। पुलिस आयुक्त मधुकर पांडे ने बताया कि मई से चल रहे इस ऑपरेशन में पुलिस अब तक 15 आरोपितों को गिरफ्तार कर चुकी है और चार राज्यों से 327 करोड़ 69 लाख 43 हजार रुपये की ड्रग्स, ड्रग्स बनाने का कच्चा माल जब्त कर चुकी है।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.