CM Shinde: शिवनेरी किले से सीएम एकनाथ शिंदे ने किया मराठा आरक्षण को लेकर बड़ा ऐलान, जानिए मुख्यमंत्री ने क्या कहा?

शिवनेरी किले से दोनों उपमुख्यमंत्रियों ने राज्य सरकार द्वारा चलायी जा रही गतिविधियों की जानकारी देते हुए कहा कि यह राज्य छत्रपति शिवाजी के विचारों पर आधारित राज्य है। इसके बाद मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने अपनी राय व्यक्त करते हुए मराठा आरक्षण पर टिप्पणी की।

145

आज 19 फरवरी तिथि के अनुसार छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) की जयंती (Jayanti) है। हर साल की तरह इस बार भी शिव जयंती (Shiv Jayanti) देश और प्रदेश में बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाई जा रही है। राज्य में शिव प्रेमियों (Shiv Lovers) उत्साह दिख रहा है। इसी तरह, मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Chief Minister Eknath Shinde) और दोनों उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) और अजीत पवार (Ajit Pawar) ने शिवनेरी किले (Shivneri Fort) में महाराजा का दर्शन किया और पालने से बंधी फूलों से बनी माला को अपने हाथों से पालने को झुलाया।

शिव जन्मस्थल के उत्तर की ओर अभिनंदन सभा के लिए एक मंडप बनाया गया है। शिव जन्मोत्सव समारोह में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, उपमुख्यमंत्री अजित पवार और देवेंद्र फडणवीस मौजूद रहे। किले पर शिव जन्मोत्सव समारोह का कार्यक्रम मराठा सेवा संघ द्वारा आयोजित किया गया था। इस समय सरकार का सार्वजनिक उत्सव, मर्दाना खेल, शिव चरित्र पर ज्ञानवर्धक पोवाड़ा भी प्रस्तुत किया गया।

यह भी पढ़ें- Shiv Jayanti 2024: सीएम शिंदे और दोनों उपमुख्यमंत्रियों ने शिवनेरी किले में छत्रपति शिवाजी महाराज के किए दर्शन

शिवनेरी किले से दोनों उपमुख्यमंत्रियों ने राज्य सरकार द्वारा चलायी जा रही गतिविधियों की जानकारी देते हुए कहा कि यह राज्य छत्रपति शिवाजी के विचारों पर आधारित राज्य है। इसके बाद मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने अपनी राय व्यक्त करते हुए मराठा आरक्षण (Maratha Reservation) पर टिप्पणी की।

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने क्या कहा?
मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि हम छत्रपति शिवाजी महाराज के आदर्श को ध्यान में रखते हुए जो कुछ भी कर सकते हैं वह करने की कोशिश कर रहे हैं। हमने कश्मीर में छत्रपति शिवाजी महाराज की एक प्रतिमा स्थापित की। पाकिस्तान को रोकने वाली प्रतिमा को देखकर कोई भी भारत की ओर टेढ़ी नजर से देखने की हिम्मत नहीं करेगा।

हम उस सुराज्य का निर्माण करना चाहते हैं जिसकी कल्पना शिवरायण ने की थी – मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री ने आगे कहा, सरकार ने दांडपट्टा को राज्य हथियार घोषित किया है। सुधीर मुनगंटीवार लंदन से बाघ नख भी महाराष्ट्र लाएंगे। हम उस सुराज्य का निर्माण करना चाहते हैं जिसका इरादा शिवरायन का था। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने आदिवासियों के लिए भी बड़ी योजनाएं चलायी हैं।

मराठा आरक्षण के बारे में बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा
कल (मंगलवार, 20 फरवरी) विधानमंडल का विशेष सत्र बुलाया गया है। ओबीसी और अन्य सामाजिक समूहों को नुकसान पहुंचाए बिना मराठा समुदाय को आरक्षण देने के लिए यह विशेष सत्र आयोजित किया जाएगा। एकनाथ शिंदे ने ऐलान किया कि कल के सत्र में मराठा समुदाय को आरक्षण देने पर फैसला लिया जाएगा।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.