हिंदूवादी नेता कमल देवगिरी की हत्या के विरोध में दूसरे दिन भी चाईबासा बंद

कमलदेव गिरि की हत्या के विरोध में 14 नवंबर को पश्चिमी सिंहभूम जिला बंद का असर चक्रधरपुर में देखने को मिला।

चक्रधरपुर के युवाओं में लोकप्रिय एवं गिरिराज सेना के संरक्षक हिंदूवादी युवा नेता कमल देव गिरि की हत्या के विरोध में हिंदूवादी संगठनों ने सोमवार को भी पश्चिम सिंहभूम जिला बंद का आह्वान किया है।

14 नवंबर की सुबह विभिन्न संगठनों के लोगों ने चाईबासा बस स्टैंड पर टायर जलाकर बंद का समर्थन किया। पश्चिमी सिंहभूम जिला बंद का असर पोड़ाहाट अनुमंडल में देखने को मिला। सोनुआ गोइलकेरा, मनोहरपुर, बंदगांव कराईकेला में दुकान, बाजार और यातायात आदि बंद रहे। यही स्थिति पश्चिमी सिंहभूम जिला मुख्यालय चाईबासा, जगन्नाथपुर मझगांव, हाट गम्हरिया में देखने को मिली। प्रदर्शन करने वाले की मांग है कि अपराधियों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए। हत्या के विरोध में रविवार को भी चक्रधरपुर बाजार को दुकानदारों ने स्वेच्छा से बंद रखा था।

कमलदेव गिरि की हत्या के विरोध में 14 नवंबर को पश्चिमी सिंहभूम जिला बंद का असर चक्रधरपुर में देखने को मिला। स्वेच्छा से लोग दूसरे दिन भी दुकानें बंद रखें। सड़क यातायात भी पूरी तरह बंद रहा। हालांकि बंद कराने अब तक सड़क पर कोई नहीं निकला था लेकिन हत्या का विरोध में दूसरे दिन भी बंद पूरी तरह सफल रहा। बंद का असर आयरन ओर की ढुलाई पर भी देखने को मिला।

यह भी पढ़ें – महिला से छेड़खानी के मामले में जितेंद्र अह्वाड के खिलाफ मामला दर्ज!

उल्लेखनीय है कि 13 नवंबर को किसी व्यक्ति ने कमलदेव गिरि को स्टेशन बुलाया था। कमलदेव अपने साथी शंकर सिंह के साथ मोटरसाइकिल से उससे मिलने पहुंचे थे। वापस आने के दौरान भारत भवन के पास उन पर बोतल बम से हमला कर दिया गया, जिसमें उनकी मौत हो गयी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here