सामाजिक और पर्यावरण की दृष्टि से भी मुनाफे में हो बिजनेसः President Murmu

सभी का स्वास्थ्य और खुशहाली प्रकृति के अच्छे स्वास्थ्य बनाए रखने में है। अगर हम संसाधनों का उचित उपयोग करेंगे तो सभी की ऊर्जा जरूरतों को मातृ प्रकृति पर दवाब डाले बिना पूरा किया जा सकता है।

726

राष्ट्रीय (President) ऊर्जा संरक्षण दिवस पर गुरुवार को राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने (Draupadi Murmu) इस बात के महत्व को रेखांकित किया कि बिजनेस (Business) केवल आर्थिक मुनाफे (economic profit) के लिए नहीं बल्कि सामाजिक और पर्यावरण की दृष्टि से (socially and environmentally) भी मुनाफे में होने चाहिए।

सभी का स्वास्थ्य और खुशहाली प्रकृति के अच्छे स्वास्थ्य बनाए रखने में
राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने आज विज्ञान भवन में आयोजित एक कार्यक्रम में राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार, राष्ट्रीय ऊर्जा कार्यकुशलता पुरस्कार और ऊर्जा संरक्षण पर आयोजित राष्ट्रीय पेंटिंग प्रतिस्पर्धा के विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किए। राष्ट्रपति ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सभी का स्वास्थ्य और खुशहाली प्रकृति के अच्छे स्वास्थ्य बनाए रखने में है। अगर हम संसाधनों का उचित उपयोग करेंगे तो सभी की ऊर्जा जरूरतों को मातृ प्रकृति पर दवाब डाले बिना पूरा किया जा सकता है।

ऊर्जा कार्यकुशलता और ऊर्जा संरक्षण पर विशेष ध्यान की जरूरत
उन्होंने कहा कि 21वीं सदी में मानवजाति को ऊर्जा कार्यकुशलता और ऊर्जा संरक्षण पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।
इस अवसर पर केंद्रीय विद्युत और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर.के. सिंह ने कहा कि उद्योग और अन्य हितधारकों के समर्पित प्रयास देश में ऊर्जा संरक्षण आंदोलन को आगे बढ़ा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफीशियेंसी (बीईई) के कार्यक्रम जैसे परफॉर्म अचीव ट्रेड और स्टार लेबलिंग प्रोग्राम विश्व-अग्रणी कार्यक्रम रहे हैं, जिससे कार्बन उत्सर्जन में पर्याप्त कमी आई है और भारत को अपने जलवायु कार्रवाई लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद मिली है।

यह भी पढ़ें – Nepali Congress में बढ़ा टकराव, खतरे में प्रचंड सरकार?

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.