Uttar Pradesh: अयोध्या में गिरफ्तार दोनों संदिग्धों का खालिस्तान से है संबंध, यूपी एटीएस कर रही है पूछताछ

उत्तर प्रदेश एटीएस की टीम ने अयोध्या से दो संदिग्धों को गिरफ्तार किया है। एटीएस और सुरक्षा एजेंसी की टीमें दोनों से पूछताछ कर रही हैं।

163

अयोध्या (Ayodhya) में 22 जनवरी को होने वाले प्राण-प्रतिष्ठा समारोह (Consecration Ceremony) को लेकर न सिर्फ भारत बल्कि पूरी दुनिया में उत्साह का माहौल है। नवनिर्मित मंदिर में भगवान राम (Lord Ram) के बाल रूप की मूर्ति के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में भाग लेने के लिए बड़ी संख्या में राम भक्त अयोध्या (Ayodhya) पहुंचने लगे हैं। इस बीच इस शुभ अवसर पर अयोध्या में धूमधाम से समारोह का आयोजन किया जा रहा है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पूरा अध्योध्या शहर छावनी में तब्दील हो गया है। उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) के कमांडो और एटीएस (ATS) ने मंदिर के चारों ओर सुरक्षा घेरा बना लिया है। मंदिर के आसपास पीएसी की कई कंपनियां भी तैनात हैं। हर आने-जाने वाले संदिग्ध पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है।

यह भी पढ़ें- Meerut के इस सामाजिक कार्यकर्ता को लॉरेंस विश्नोई गैंग ने दी धमकी, पुलिस में शिकायत दर्ज

संदिग्धों को हिरासत में ले लिया गया
उत्तर प्रदेश एटीएस टीम ने जिन लोगों को गिरफ्तार किया है, वे कनाडा में मारे गए खालिस्तानी आतंकी (Khalistani Terrorists) सुक्खा डंके और अर्श डाला गैंग के संदिग्ध हैं। यूपी एटीएस के साथ ही सुरक्षा एजेंसी की टीम भी पकड़े गए संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

कर ली गई है एक संदिग्ध आतंकवादी की पहचान
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एक संदिग्ध की पहचान धर्मवीर के रूप में हुई है। वह राजस्थान के सीकर जिले के रहने वाले है। भारत की राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने अर्श डाला को वांछित आतंकवादी घोषित कर दिया है। भारत सरकार ने भी उसे आतंकवादी घोषित कर दिया है।

देखें यह वीडियो-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.